चुनावी रैलियों में जिन्होंने बनाई थी तस्वीरें, उन्हें पीएम नरेंद्र मोदी ने लिखा पत्र, जानें किसने क्या कहा?

National

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी सभाओं में जिन लोगों की तस्वीरें उन्होंने ली थी, उन्हें अब प्रधानमंत्री ने पत्र लिखा है। पत्र पाने वालों में खुशी की लहर है। एक लड़के ने कहा था कि मुझे नहीं उम्मीद थी कि वह उसे देखेंगे भी। लेकिन उन्होंने मुझे पत्र लिखा है।

लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर चुनाव प्रचार के दौरान अक्सर देखने को मिलता कि पीएम मोदी लोगों से तस्वीरों को लेते और कहते कि मैं आप लोगों को खत लिखूंगा। उनकी रैली में कभी किसी ने उनके द्वारा किए गए विकास कार्यों को दिखाया तो किसी ने उनकी मां संग उनकी तस्वीर को दिखाया। पीएम मोदी ने सभी तस्वीरों को इकट्ठा किया और अब जिन लोगों ने तस्वीरें बनाई थीं, उन्हें पत्र लिखा है। इसी कड़ी में नरेंद्र मोदी ने रतन शंकर नाम के एक बच्चे को खत लिखा है। इस पर रतन शंकर से जब न्यूज एजेंसी एएनआई ने बात की तो रतन ने कहा कि मैं सबसे पहले मोदी जी को उनके तीसरे कार्यकाल के लिए बधाई देना चाहता हूं। मैंने प्रधानमंत्री मोदी का एक चित्र बनाया। उसमें उनके द्वारा किए गए विकास कार्यों को दिखाया था। मैं आभार व्यक्त करना चाहतूं कि उन्होंने मेरे काम की सराहना पत्र लिखकर की।

स्केच बनाने वालों को पीएम नरेंद्र मोदी का पत्र

पीएम मोदी ने कई लोगों को उनके द्वारा बनाई गई तस्वीरों के लिए खत लिखा। प्रधानमंत्री की तरफ से चिट्ठी प्राप्त करने पर मिराया आनंद के पिता विकास आनंद ने कहा कि मेरी बेटी जिसका नाम मिराया आनंद है, मोदी जी की तुलना वह अपने दादाजी से करती है। एक दिन, उसने एक स्केच बनाया, जिसमें क तरफ मोदी दादू, दूसरी तरफ उसके दादा और बीच में भारत का झंडा दिखाया गया और नीचे जय हिंद लिखा था। इसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से हमें पत्र मिला है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी भावनाएं व्यक्त की है। उन्होंने लिखा कि देश के प्रति आपकी भक्ति साबित करती है कि देश का भविष्य उजद्जवल है। हम सभी को बहुत गर्व है।

नरेंद्र मोदी का पत्र पाकर खुश हैं लोग

वहीं मध्य प्रदेश के रहने वाले तरुण जैन को भी प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से पत्र प्राप्त हुआ है। पीएम मोदी द्वारा खत पाने के बाद तरुण जैन ने कहा कि दमोह की रैली में जब नरेंद्र मोदी आए थे। तब मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी मां का चित्र बनाया था। इसी रैली मैं उन्हें गिफ्ट देने गया था, लेकिन पहली बार में सफल नहीं हो सका। हालांकि दूसरी बार की रैली में मैंने उन्होंने मेरे स्केच को ले लिया। मुझे उम्मीद नहीं थी कि प्रधानमंत्री मोदी उसे देखेंगे और कभी पत्र लिखेंगे। हालांकि चित्र प्राप्त करने के 10-15 दिनों बाद ही मुझे प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से पत्र मिला, जिसे पाकर मैं बहुत खुश हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।