बगहा में तेज बारिश के कारण पुलिया ध्वस्त, 25 गांवों का टूटा संपर्क

Bihar
Google news

बिहार में पुल-पुलिया गिरने का सिलसिला जारी है. अब पश्चिम चंपारण जिले के बगहा में एक 5 साल पुरानी पुलिया ध्वस्त हो गई. मामला जिले के सपही का है. पुलिया के साथ साथ सड़क भी टूट गई है, जिससे आसपास के दर्जनों गांवों का आपस में संपर्क भंग हो गया है. ग्रामीणों का कहना है कि पुलिया टूटने के लिए ठेकेदार और इंजीनियर जिम्मेदार हैं, क्योंकि निर्माण कार्य में अनियमितता बरती गई है. ग्रामीणों ने इसकी शिकायत बीडीओ सीओ से भी की है।

बगहा में पुलिया टूटी: बता दें कि जिले में हफ्ते भर से रुक-रुककर लगातार हो रही बारिश से आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. इस मॉनसून की बारिश ने प्रशासन की ओर से किए गए विकासात्मक कार्यों की गुणवत्ता की पोल खोल कर रख दी है. सपही से बेलवा जाने वाली मुख्य सड़क पर बनी पुलिया ध्वस्त हो गयी है. जिस कारण कई पंचायत को जोड़ने वाली सड़क पर यातायात बाधित हो गया है।

25 गांवों संपर्क भंगः बताया जा रहा है कि तीन पंचायत के लगभग 25 गांवों के लोगों का आवागमन इसी रास्ते से होता था. ग्रामीणों ने बताया कि महज दो माह पहले सड़क और पुलिया की मरम्मत हुई थी. ग्रामाणों ने बताया कि अधिकारियों एवं ठेकेदार की मिलीभगत के कारण सड़क व पुलिया की मरम्मत कार्य में काफी घाल मेल किया गया है, जिस कारण दो ही माह के अंदर सड़क और पुलिया ध्वस्त हो गई।

अनियमितता का आरोपः बताया जा रहा है कि बेलवा से सपही जाने वाले मुख्य सड़क पर नहर के ऊपर बनी पुलिया ध्वस्त हो जाने की खबर चारों तरफ फैल गई. जगह-जगह पुलिया मरम्मती में हुए घाल मेल की चर्चा जोर पकड़ने लगी है. ग्रामीणों ने इसकी शिकायत बगहा दो बीडीओ व जिला पदाधिकारी से दूरभाष पर किया है. ग्रामीणों ने मांग की है की बेलवा सपही मार्ग स्थित इस सड़क पर फिर से नयी पुलिया का निर्माण किया जाए और अनियमितता बरतने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई हो।

“दो साल पहले भी टूटी थी. दो महीने पहले ही पुलिया की मरम्मत करायी गयी थी. बारिश के कारण टूट गयी है. अब बाइक क्या साइकिल भी नहीं जा सकती है. 4 से 5 साल पहले ही पुलिया बनी थी.” -राहुल कुमार, ग्रामीण

Sumit ZaaDav

Hi, myself Sumit ZaaDav from vob. I love updating Web news, creating news reels and video. I have four years experience of digital media.

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।