चाचा पशुपति पारस ने भजीते चिराग पासवान को दी बधाई, जताई बड़ी उम्मीद

BiharNationalPoliticsTrendingViral News

लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के प्रमुख चिराग पासवान ने मंगलवार को खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री के रूप में पदभार ग्रहण किया. इस पर चाचा पशुपति पारस उन्हें बधाई दी. इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि वो प्रदेश वासियों की समस्याओं का समाधान करेंगे. पशुपति पारस ने एक्स पर मंगलवार को लिखा कि ‘बड़े बेटे चिराग पासवान को बधाई और शुभकामनाएं’

पशुपति पारस ने एक्स पर चिराग पासवान को लेकर लिखी ये बातें

पशुपति पारस ने एक्स पर लिखा कि ‘केंद्रीय मंत्री के रूप में मेरा पूर्व पदभार संभालने पर बड़े बेटे चिराग पासवान को ह्रदयतल से बधाई और अनंत शुभकामनाएं.’ आगे उन्होंने लिखा कि ‘हमें आशा है कि आप क्षेत्र एवं प्रदेशवासियों के मायूसी और हितों को ध्यान में रखते हुए इस समस्या का त्वरित समाधान करेंगे’

दोनों के बीच चल रही थी तकरार

बता दें कि भतीजे चिराग पासवान और चाचा पशुपति पारस एलजेपी की टूट के बाद से ही अदावत चल रही थी. दोनों के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा था. पार्टी में टूट के साथ-साथ परिवार भी टूट गया था. एलजेपी के सारे सांसद चाचा पशुपति के गुट में चले गए थे. वहीं, इस लोकसभा चुनाव में चिराग पासवान को एनडीए में ज्यादा तवज्जो मिली थी.

उन्हें पांच सीट मिली थी और चाचा पशुपति गुट को कुछ नहीं मिला था. इसके साथ ही हाजीपुर सीट को लेकर भी दोनों के बीट ठन गई थी और पशुपति पारस ने एनडीए बगावत शुरू कर दी थी. इसको लेकर दोनों के बीच काफी बयानबाजी भी हुई थी. हालांकि बाद में पशुपति पारस ने एनडीए में वापसी कर ली थी.

See also  'पहले इंसानों को बांटते थे, अब भगवान में लड़ाई लगाने की कोशिश', खड़गे पर भड़के चिराग

मंत्री बनने पर चिराग पासवान का आया बयान 

खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में विकास की संभावनाओं पर जोर देते हुए चिराग पासवान ने कहा कि यदि आप वैश्विक स्तर पर खाद्य प्रसंस्करण की भागीदारी को देखें, तो इस क्षेत्र में भारत की भागीदारी काफी कम है. आने वाले समय में इस क्षेत्र में असीमित संभावनाएं हैं. मेरा अपना दृष्टिकोण भी अधिक प्रसंस्करण इकाइयां स्थापित करने पर केंद्रित है, ताकि किसानों को उनकी उपज के लिए उचित पैसे मिल सके और उनकी आय बढ़े. उन्होंने किसानों की आय बढ़ाने में इस क्षेत्र के महत्व पर प्रकाश डाला.

Rajkumar Raju

5 years of news editing experience in VOB.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।