एक बार फिर महागठबंधन सरकार में जारी 4000 करोड़ का टेंडर रद्द, पीएचईडी मंत्री ने लगाया बड़ा आरोप

BiharPolitics
Google news

बिहार के लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के मंत्री नीरज कुमार बबलू ने महागठबंधन सरकार में गड़बड़ी का आरोप लगाया है. इसके पहले भी मंत्री पीएचईडी विभाग में गड़बड़ी को लेकर टेंडर रद्द कर चुके हैं. इस मामला को लेकर मंत्री ने प्रेस कांफ्रेंस कर इसकी जानकारी दी. कहा कि एनडीए की सरकार बनने के बाद सभी विभाग एक्टिव मोड में काम कर रहा है. इसको ध्यान में रखते हुए विभाग ने पिछले 4 हजार करोड़ का टेंडर रद्द कर दिया है।

दोबारा निकलेगा टेंडरः इस टेंडर को रद्द करने के बाद अब नए सिरे से टेंडर निकाला जाएगा. मंत्री ने कहा कि 1 महीने के अंदर टेंडर पूरा कर लिया जाएगा और उसके बाद अगस्त महीने से काम शुरू भी कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि विभाग अब पुरानी टेंडर को संशोधित करने का काम करेगा. नीरज कुमार बबलू ने कहा कि इसमें कई चीजों को जोड़ा गया है।

“टेंडर में गड़बड़ी की बात अलग है. पिछले सरकार में क्या हुई है उस पर ज्यादा चर्चा करना नहीं चाहते है. हम मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना नल जल योजना को सुचारू रूप से हर घर तक शुद्ध जल पहुंचने के लिए उस टेंडर को रद्द कर नया टेंडर कर रहे हैं. जब हमने पुराने टेंडर को जांच करवाया तो हमने पाया कि कई गांव मोहल्ला नल जल योजना से वंचित है. इसलिए अब उस गांव मोहल्ला को जोड़ेंगे एक घर छूटे ना इस पर विभाग काम करेंगी.” -नीरज कुमार बबलू, मंत्री, बिहार सरकार

4000 करोड़ का टेंडर रद्द ः मंत्री ने बताया कि विभाग को हाईटेक किया जाएगा. विभाग में सोलर सिस्टम से पानी की टंकी भरना और बंद होने वाला सिस्टम लगाया जाएगा. कई दिनों तक बिजली गुल रहने से लोगों को पानी नहीं मिल पाता है. इसी को देखते हुए हाईटेक किया जा रहा है. इसके साथ ऑटोमेटिक नल लगाया जाएगा जिससे कि पानी की बर्बादी भी नहीं होगी. अभी तक 4000 करोड़ का टेंडर रद्द कर दिया गया है. पिछली सरकार में जो टेंडर हुआ था उसको लेकर शिकायत मिली थी. इस शिकायत पर हम लोगों ने जांच करवाया और जांच के उपरांत टेंडर को रद्द किया गया।

15 वाटर एटीएम लगेगाः मंत्री नीरज कुमार बबलू ने कहा कि 4000 चापाकल लगाने का लक्ष्य है जिसमें 1500 चापाकल अभी तक लगाया जा चुका है. कुछ दिनों में सभी चापाकल लगा दिया जाएगा. राज्य में कुल 497 वॉटर टैंकर लोग स्वास्थ्य प्रमंडल में उपलब्ध है, जिसमें से आवश्यकता अनुसार 9 जिलों में 83 टैंकर के माध्यम से समस्या ग्रस्त क्षेत्र में ग्रामीणों को जलापूर्ति कराई जा रही है. राज्य में 15 वाटर एटीएम भी आवश्यकता अनुसार उपलब्ध कराई गई है।

व्हाट्सएप नंबर जारीः विभाग में ग्रामीण क्षेत्रों में समस्या को लेकर टोल फ्री नंबर और व्हाट्सएप नंबर जारी किया. टोल फ्री नंबर 1800 123 1121 व्हाट्सएप नंबर 8544 429024 पर सुबह 6:00 बजे से लेकर रात के 8:00 तक शिकायत कर सकते हैं. प्रतिदिन कितने शिकायत आ रहे हैं और निवारण हो रहा है इसका डायरी मेंटन किया जाएगा।

Sumit ZaaDav

Hi, myself Sumit ZaaDav from vob. I love updating Web news, creating news reels and video. I have four years experience of digital media.

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।