विपक्ष पर जमकर बरसे ललन सिंह : कहा..कांग्रेस को कुछ नहीं मिला, तो अंगूर खट्टे लगने लगे

BiharPolitics

लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे सामने आते ही विपक्ष NDA पर लगातार हमलावर है। विपक्ष का कहना है कि 400 पार का नारा लगाने वाली बीजेपी की सीटें पहले की तुलना इस बार कम हो गई हैं। जिसके कारण अपने दम पर बीजेपी सरकार नहीं बना सकती। सरकार बनाने के लिए उसे घटक दलों का सहारा लेना ही पड़ेगा। बिना घटक दलों का सहारा लिये नरेंद्र मोदी का प्रधानमंत्री बनना मुश्किल है।

विपक्ष का यह भी कहना है कि सरकार बनाने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू की भूमिका महत्वपूर्ण होगी। एनडीए पर लगातार हमले को लेकर जनता दल यूनाईटेड के मुंगेर सांसद ललन सिंह ने विपक्ष पर पलटवार किया है। ललन सिंह ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। कहा कि जब कांग्रेस को कुछ नहीं मिला, तो अंगूर खट्टे लगने लगे। वही पत्रकारों ने जब ललन सिंह पूछा कि क्या अब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा? पत्रकारों के सवाल पर कन्नी काटते हुए मुंगेर सांसद ने कहा कि इसके बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ही बात कर लीजिए।

देश में एक बार फिर से एनडीए की सरकार बनने जा रही है। कल यानी रविवार की शाम सवा सात बजे नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। हालांकि शपथ ग्रहण से पहले जेडीयू ने बड़ा दावा भी कर दिया है। जेडीयू नेता केसी त्यागी ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि इंडी गठबंधन ने नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री पद का ऑफर किया था लेकिन उन्होंने इससे इनकार कर दिया।

अब नरेंद्र मोदी रविवार को लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। इसको लेकर दिल्ली में शपथ ग्रहण की तैयारियां तेज हो गई हैं। राष्ट्रीय राजधानी को किले में तब्दील कर दिया गया है। पूरी दिल्ली को नो फ्लाइंग जोन घोषित कर दिया गया है। इसके साथ ही  9 और 10 जून को दिल्ली में धारा-144 लागू रहेगी। राष्ट्रपति भवन के आसपास NSG कमांडो, ड्रोन और स्नाइपर की तैनाती की गई है।

वहीं, राष्ट्रपति भवन की सुरक्षा के लिए अर्धसैनिक बलों की पांच कंपनियां तैनात होंगी। इसके साथ ही NSG कमांडो, ड्रोन और स्नाइपर की तैनाती भी होगी। इस बार  शपथ ग्रहण समारोह में बांग्लादेश, श्रीलंका, मालदीव, भूटान, नेपाल, मॉरीशस और सेशेल्स के शीर्ष नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है। ऐसे में पीएम मोदी के शपथ ग्रहण को लेकर शहर के लीला, ताज, आईटीसी मौर्या, क्लेरिजेस और ओबेरॉय जैसे होटलों को पहले ही सुरक्षा घेरे में ले लिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि शपथ ग्रहण समारोह के लिए दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन के सदस्य देशों की गणमान्य हस्तियों को आमंत्रित किए जाने के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी ‘हाई अलर्ट’ पर रहेगी। समारोह के दिन दिल्ली पुलिस के स्वाट और एनएसजी के कमांडो राष्ट्रपति भवन एवं विभिन्न अहम स्थानों के आसपास तैनात रहेंगे। शपथ ग्रहण के लिए दिल्ली में थ्री टियर सिक्योरिटी (तीन लेयर की) व्यवस्था होगी।

उधर, विदेशी मेहमानों के लिए विदेश मंत्रालय के अधिकारियों के साथ-साथ खुफिया विभाग के अधिकारियों को भी तैनात किया जा रहा है। जिससे किसी भी मेहमान को कोई भी दिक्कत न हो और सुरक्षा में कोई परेशानी भी न हो। विदेशी मेहमान जिस होटल में रुके हैं, वहां से शपथ ग्रहण समारोह स्थल यानी राष्ट्रपति भवन तक आने के लिए ट्रैफिक और सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।