BPSC TRE 3 Admit Card: फोटो अपलोड के बाद 9 जुलाई से मिलेगा बिहार शिक्षक भर्ती का एडमिट कार्ड

EducationBihar
Google news

BPSC TRE 3 Admit Card 2024:

बीपीएससी तीसरे चरण की शिक्षक भर्ती परीक्षा (BPSC TRE-3) इसी साल 15 मार्च को आयोजित हुई थी लेकिन पेपर लीक के कारण 20 मार्च को BPSC ने इसे रद्द कर दिया था. अब यह परीक्षा 19 जुलाई से दोबारा आयोजित की जाएगी.

BPSC TRE 3 Admit Card 2024: बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा फेज-3 की तैयारी कर रहे उम्मीवारों के लिए अच्छी खबर है. बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) 9 जुलाई यानी परीक्षा से 10 दिन पहले भर्ती परीक्षा (BPSC TRE 3.O) का एडमिट कार्ड जारी करने वाला है. जिन उम्मीदवारों ने शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन किया था, वे बीपीएससकी आधिकारिक वेबसाइट bpsc.bih.nic.in से डाउनलोड कर सकेंगे.

एडमिट कार्ड के लिए करनी होगी फोटो अपलोड

BPSC TRE 3 का एडमिट कार्ड 9 जुलाई से जारी होगा. एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के से पहले उम्मीदवारों को अपनी पासपोर्ट साइज फोटो अपलोड करनी होगी. उम्मीदवारो को पोर्टल पर लॉग-इन करने के बाद अपना पासपोर्ट साइज (25KB) फोटो अपलोड करना होगा. इसके बाद एडमिट कार्ड डाउनलोड कर पाएंगे और परीक्षा केंद्र का सेंटर कोड के साथ जिला का नाम भी होगा. परीक्षा केंद्र की डिटेल सेंटर कोड के साथ 16 जुलाई से मिलेगी.

19 से 22 जुलाई तक चलेगी भर्ती परीक्षा

BPSC ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर शिक्षक भर्ती फेज-3 का जरूरी नोटिस जारी किया है. आयोग द्वारा जारी नोटिस में जानकारी दी गई है कि बीपीएससी टीआरई-3 री-एग19 से 22 जुलाई तक आयोजित किया जाएगा. 19 से 21 जुलाई तक परीक्षा सिंगल शिफ्ट में होगी, जबकि 22 जुलाई को दो शिफ्ट में परीक्षा आयोजित की जाएगी.

15 मार्च को हुई थी 3.75 लाख उम्मीदवारों की परीक्षा

अधिकारियों ने बताया कि बीपीएससी ने 15 मार्च को दो शिफ्ट में 415 परीक्षा केंद्रों पर टीआरई-3 परीक्षा आयोजित की थी, जिसमें लगभग 3.75 लाख उम्मीदवार शामिल हुए थे. उन्होंने बताया कि बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट का विश्लेषण करने के बाद परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया गया… का निर्णय लिया गया, जिसने प्रश्नपत्र लीक के आरोपों की जांच की थी.

बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (EOU) ने अपनी रिपोर्ट में पाया था कि परीक्षा से पहले प्रश्नपत्र एक गिरोह तक पहुंच गए थे. इसने 16 मार्च को आईपीसी की की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी और एक विशेष टीम का गठन किया था जिसने 266 लोगों को गिरफ्तार किया था.

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।