• Sat. May 21st, 2022

CM नीतीश पहुंचे अपने गांव तो एक बच्चे ने रोकर कहा-सर..पढ़ाई करवा दीजिये ना, IAS-IPS बनेंगे

BySumit Kumar

May 14, 2022

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को अपने गांव पहुंचे. दरअसल सीएम नीतीश कुमार की पत्नी की 16वीं पुण्यतिथि है. इसी के सिलसिले में सीएम नालंदा के हरनौत ब्लॉक स्थित अपने पैतृक गांव कल्याण बिगहा पहुंचे. मुख्यमंत्री ने अपनी पत्नी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करके उन्हें श्रद्धांजलि दी. इसके बाद उन्होंने कल्याण बिगहा मध्य विद्यालय में ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनी. इसी दौरान 11 साल के एक बच्चे ने सीएम से गुहार लगाई कि उसकी पढ़ाई की व्यवस्था मुख्यमंत्री करवा दें. वह IAS-IPS बनना चाहते हैं।

दरअसल कल्याण बिगहा मध्य विद्यालय में सीएम नीतीश कुमार जब ग्रामीणों की समस्याएं सुन रहे थे. उसी दौरान एक 11 वर्षीय बालक सीएम को आवाज लगाने लगा. सर, सुनिये ना… सर सुनिये ना..जब सीएम ने बालक की आवाज सुनी तो वह ठहर गये. फिर सोनू कुमार नाम के उस लड़के ने नीतीश कुमार से कहा कि वो पढ़ना चाहता है पर उसके अभिभावक पढ़ाते नहीं है. इसलिए सीएम से उसने इंतजाम कराने की गुहार लगायी. बच्चे की फरियाद सुनते ही सीएम नीतीश कुमार ने फौरन अधिकारियों को इस बच्चे का मामला देखने को कहा।

सीएम नीतीश कुमार ने अधिकारियों से कहा कि ये बच्चा पढ़ना चाहता है. लेकिन अभिभावक नहीं पढ़ा पा रहे हैं. इसकी पढ़ाई का इंतजाम कीजिये. वहीं सोनू ने बताया कि वो पढ़ाई करके आईएएस-आईपीएस बनना चाहता है लेकिन उसके पिता पढ़ाई नहीं कराते हैं. साथ ही बालक सोनू ने अपने पिता पर शराब पीकर पैसा बर्बाद करने का आरोप भी लगाया. सोनू ने सरकारी स्कूल की पोल खोलते हुए कहा कि उसे सरकारी स्कूल से पढ़ाई बिल्कुल नहीं करनी है. लेकिन शिक्षा का इंतजाम सरकार करा दे तो वो बड़ा मुकाम हासिल करेगा।

बता दें कि सोनू हरनौत प्रखंड के ही नीम कौल गांव का का रहने वाला है. 11 साल का बच्चा सोनू ट्यूशन पढ़ाकर पढ़ाई करता है. बच्चे का कहना है कि UPSC निकालना मुश्किल नहीं है. इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कल्याण बिगहा गांव पहुंचे तो ग्राम देवी मंदिर में पूजा करने के बाद अपने माता- पिता की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किये. इसके बाद पुण्यतिथि पर अपनी पत्नी की प्रतिमा पर पुष्प चढ़ाए. इसके बाद सीएम एक ग्रामीण के घर पहुंचे, जिनकी मां का देहांत हाल में हुआ था. फिर इसके बाद वह मध्य विद्यालय पहुंचे जहां सीएम ने लोगों की समस्याएं सुनी।