उपेंद्र कुशवाहा ने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी का चुनावी घोषणा पत्र किया जारी

PATNA : उपेंद्र कुशवाहा ने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी का चुनावी घोषणा पत्र आज जारी कर दिया है. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के घोषणापत्र को वचन पत्र का नाम दिया गया है. 15 साल वाली यह सरकार न 15 साल वाली वह सरकार अबकी बार शिक्षा और रोजगार वाली सरकार के स्लोगन के साथ कुशवाहा ने वचन पत्र जनता के सामने रखा है. पार्टी ने उपेंद्र है तो उम्मीद है का नारा देते हुए नौजवानों को रोजगार विद्यार्थियों को अच्छी शिक्षा बुजुर्गों और अस्वस्थ लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं किसानों को अच्छी आमदनी और खुशहाली के साथ-साथ शोषित वंचित हो और पीड़ितों को जल्द न्याय दिलाने का वादा इस वचन पत्र में किया गया है.

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने आज वचन पत्र जारी करते हुए या भरोसा दिया कि महिलाओं को सामाजिक आर्थिक राजनीतिक और शैक्षणिक तौर पर सशक्त बनाने के लिए उनकी पार्टी काम करेगी. आंगनबाड़ी सेविका और सहायिकाओं के साथ-साथ आशा बहुओं का मानदेय सम्मानजनक स्तर तक बढ़ाया जाएगा. साथ ही साथ राष्ट्रीय बाल नीति 2013 के प्रावधानों के मुताबिक राज्य में कार्ययोजना बनाकर आगे काम किया जाएगा. इसके अलावा पार्टी ने सम्राट अशोक चंद्रगुप्त मौर्य और आचार्य चाणक्य की प्रतिमा पटना में लगाने का नाम बदलकर पाटलिपुत्र करने के साथ-साथ गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय की स्थापना करने का वादा भी इस घोषणापत्र में किया गया है.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार से बाहर काम करने वाले लोगों के लिए बिहार में रोजगार देने की कोशिश की जाएगी. मनरेगा के तर्ज पर बिहार में योजना चलाया जाएगा. किसानों के खेत में काम करने वाले मजदूरों को मनरेगा के तहत भुगतान किया जाएगा. जिससे किसानों का राहत और मजदूरों को रोजगार मिलेगा.

­

Leave a Reply