• Wed. Oct 20th, 2021

कल दशहरे पर बन रहे ये शुभ योग, कार्यों में मिलेगी सफलता और होगा लाभ, पढ़े पूरी रिपोर्ट

ByShailesh Kumar

Oct 14, 2021

आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को दशहरा मनाया जाता है। इस साल यह तिथि 15 अक्टूबर, शुक्रवार को है। खास बात यह है कि इस साल विजयदशमी या दशहरा के दिन तीन खास योग बन रहे हैं। दशहरा हिंदुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक है। मान्यता है कि इस दिन भगवान श्रीराम ने रावण का वध किया था। इसके बाद से ही इस त्योहार को मनाने की परंपरा चली आ रही है। वहीं इस दिन मां दुर्गा ने महिषासुर का भी संहार किया था। इसलिए इसे असत्य पर सत्य की जीत के तौर पर भी मनाते हैं।

उदया तिथि में बनाया जाएगा दशहरा-

इस साल नवरात्रि 7 अक्टूबर से प्रारंभ हुए थे, जिनका समापन 14 अक्टूबर को हुआ। इस साल महानवमी 14 अक्टूबर को मनाई गई। नवमी तिथि के अगले दिन दशमी तिथि में दशहरा मनाते हैं। 14 अक्टूबर की शाम 06 बजकर 52 मिनट तक नवमी तिथि रहेगी और इसके बाद दशमी तिथि लग जाएगी। 15 अक्टूबर को उदया तिथि में दशहरा या विजयदशमी मनाई जाएगी।

दशहरा शुभ मुहूर्त-

15 अक्टूबर को विजयदशमी के दिन दोपहर 2 बजकर 1 मिनट से दोपहर 2 बजकर 47 मिनट तक विजय मुहूर्त है। इस मुहूर्त की कुल अवधि 46 मिनट की है। दोपहर को पूजन का शुभ समय 1 बजकर 15 मिनट से दोपहर 3 बजकर 33 मिनट तक है।

मिलेंगे शुभ फल-

मान्यता है कि इस दिन मां दुर्गा और भगवान श्रीराम की पूजा करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है। जीवन में आने वाली समस्याओं से मुक्ति मिलती है और शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है। इस दिन अस्त्र-शस्त्र पूजन का भी विशेष महत्व है। कहते हैं कि नवग्रहों की स्थिति मजबूत करने के लिए दशहरे के दिन पूजा करना लाभकारी होता है।

दशहरे पर शुभ योग का समय-

दशहरा पर इस साल तीन शुभ योग बन रहे हैं। 14 अक्टूबर को रवि योग शाम 09 बजकर 34 मिनट से शुरू होगा, जो कि 15 अक्टूबर की सुबह 09 बजकर 31 मिनट तक रहेगा। वहीं सर्वार्थ सिद्धि योग 15 अक्टूबर की सुबह 06 बजकर 2 मिनट से सुबह 09 बजकर 15 मिवट तक रहेगा। इसके अलावा कुमार योग सूर्योदय से लेकर सुबह 09 बजकर 16 मिनट तक रहेगा। इस तीन शुभ योग में दशहरा पूजन करना अत्यंत लाभकारी रहेगा।