• Sat. May 21st, 2022

अजगैवीधाम से बाबाधाम की ट्रेन रेलवे बोर्ड में अटकी, रेलवे बोर्ड से अभी तक डिवीजन को पत्र नहीं आया

ByRajkumar Raju

Jan 24, 2022

अजगैवीधाम सुल्तानगंज से बाबाधाम देवघर तक की सीधी ट्रेन सेवा को लेकर शुरू हुई कवायद रेलवे बोर्ड में अटक गई है। अभी तक इसके लिए रेलवे बोर्ड से मालदा रेलमंडल को कोई अधिकारिक पत्र नहीं मिला है, जबकि कुछ माह पहले ही इसकी कवायद हुई थी। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने गोड्डा के सांसद निशिकांत दूबे को ट्रेन सेवा जल्द शुरू करने का आश्वासन भी दिया था। बाकायदा उन्होंने पीएमओ और रेलमंत्री को टैग करते हुए ट्वीट भी किया था। इसके बाद डिवीजन के स्तर पर कुछ तैयारियां भी शुरू की गई थीं।

सुल्तानगंज से देवघर के लिए डीएमयू ट्रेन की सेवा शुरू करने की बात थी। प्रस्ताव के अनुसार इस ट्रेन को सुल्तानगंज से भागलपुर, बांका, कटोरिया होकर चलाया जाना था। यह प्रतिदिन चलने वाली सुल्तानगंज से देवघर के लिए सीधी ट्रेन सेवा होगी। अभी तक सुल्तानगंज से देवघर के लिए सीधी ट्रेन सेवा के रूप में एक साप्ताहिक ट्रेन अगरतला-देवघर एक्सप्रेस चलती है। इसके अलावा देवघर जाने वाले लोगों को सुल्तानगंज से भागलपुर आकर बांका की ट्रेन पकड़नी होती है और बांका से एक पैसेंजर ट्रेन देवघर तक जाती है जो एक फेरा लगाती है।

इसके अलावा देवघर जाने के लिए दूसरा रास्ता किऊल होकर है। सुल्तानगंज या भागलपुर से देवघर जाने वाले यात्रियों को पहले किऊल जाना होता है। किऊल से ट्रेन बदलकर जसीडीह और जसीडीह से देवघर जाना पड़ता है। सुल्तानगंज से देवघर तक सीधी ट्रेन सेवा शुरू करने के लिए ही पूर्व में सुल्तानगंज भाया बांका देवघर के लिए रेल परियोजना की घोषणा की गई थी। यह परियोजना भी आधी रह गई। देवघर से बांका तक की लाइन बन गई, लेकिन बांका से सुल्तानगंज की लाइन नहीं बनी। योजना को बीच में ही रेलवे बोर्ड ने पेंडिंग कर दिया।

अभी सुल्तानगंज से देवघर के लिए डीएमयू सेवा शुरू करने को लेकर मुख्यालय से निर्देश नहीं आया है। जनप्रतिनिधियों के स्तर से इसपर बात हुई है तो ट्रेन जरूर चलेगी।

– यतेन्द्र कुमार, डीआरएम, मालदा रेलमंडल।