त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर बरतें सावधानी, स्वास्थ्य मंत्रालय की अपील

त्योहारों का मौसम सभी लोगों को एक साथ लाता है, जो सभी समुदायों को सांस्कृतिक और भाषाई एकीकरण प्रदान करता है। हालांकि, इस साल चीजें थोड़ी अलग है। नवरात्रि और दशहरा बिल्कुल पास हैं तो दिवाली और क्रिसमस जैसे त्योहार आने वाले हैं। इस बीच सरकार ने लोगों को सार्वजनिक समारोहों से बचने, शारीरिक दूरी बनाए रखने और त्योहार मनाने को अपने घरों तक सीमित रखने की सलाह दी है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एक सलाह में लोगों से अपील की गई है कि त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर अति सजग रहने की जरूरत है, क्योंकि इस कारण कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हो सकती है।

सामाजिक शिष्टाचार बनाए रखने की इस अपील को देशव्यापी maintain जन आंदोलन ’अभियान के शुभारंभ के साथ आगे बढ़ाया गया है, जो त्योहारों को मनाते समय बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए लोगों को COVID-19 उपयुक्त व्यवहारों को अपनाने और अभ्यास करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

स्वास्थय मंत्रालय ने एक ट्वीट में लिखा है कि त्योहारों की खुशियों में सुरक्षा के प्रति लापरवाही ना बरतें। मास्क पहनें, हाथ धोएं और दूसरों से उचित दूरी बना कर रखें। 2 गज की दूरी, मास्क है ज़रूरी।

स्वास्थय मंत्रालय ने एक ट्वीट में लिखा है कि त्योहारों की खुशियों में सुरक्षा के प्रति लापरवाही ना बरतें। मास्क पहनें, हाथ धोएं और दूसरों से उचित दूरी बना कर रखें। 2 गज की दूरी, मास्क है ज़रूरी।

इससे पहले अपने संडे संवाद के एक अंक में भी स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को कोरोना को लेकर सावधानी बरतने की सलाह दी थी। स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को त्योहारों के मौसम में कोरोना से बचाव के तरीके समझाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह त्योहारों के मौसम में सावधानी बरतें, अन्यथा कोरोना फिर से विकराल हो जाएगा।

Leave a Reply