• Mon. Jun 21st, 2021

Bihar की Sanchita Basu साउथ फिल्म में होगी लीड हीरोइन

सलखुआ प्रखंड के सितुआहा पंचायत के महादेव मठ गांव निवासी सुरेंद्र यादव उर्फ कंपनी व रवीना राय की पुत्री सचिता बसु को साउथ की एक फिल्म में लीड हीरोइन की भूमिका मिलने से गांव में जश्न एवं खुशी का माहौल है। इंटरनेट पर धूम मचा रही संचिता बसु ने पहले तो टिकटॉक स्टार के रूप में अपनी पहचान बनाई। उसके बाद स्नेक एप पर सिगिग एवं डांस के क्षेत्र में उनके 11 मिलियन फॉलोवर्स हैं। एक छोटे से गांव से निकली इस लड़की की इस प्रतिभा के सभी लोग कायल हो चुके हैं।

माउंट कार्मेल भागलपुर की है छात्रा

संचिता बसु ने बताया कि वह माउंट कारमेल स्कूल, भागलपुर में दसवीं की छात्रा है। वह इसबार मैट्रिक की परीक्षा देगी। परीक्षा के तुरंत बाद साउथ की फिल्म के लिए उनकी शूटिग हैदराबाद में शुरू होगी। उनके इस सफलता पर गांव के सभी लोगों में खुशियों का माहौल है। उन्होंने बताया कि शुरू से वे अभिनय के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहती थी। साउथ की फिल्म में लीड हीरोइन का रोल मिलने से उनका सपना सच साबित होने जैसा है।

संचिता कहती हैं वह पहले अपने घर में टेलीविजन पर डांस देखा करती थी और मोबाइल पर शॉर्ट वीडियो बनाकर इंटरनेट पर डालने लगी। जब मां और पिताजी को पता चला तो उन्होंने भी पूरा सहयोग किया। अपने माता-पिता को प्रेरणा स्त्रोत बताते हुए कहा कि घर घरवालों एवं कार्मेल स्कूल के शिक्षकों का सहयोग हमें मिला। मेरी मौसी की पुत्री नीतू कुमारी मेरा वीडियो बनाकर इंटरनेट पर अपलोड किया करती थी। इससे मुझे काफी सहयोग मिला।

स्नेक एप पर स्टार के रूप में प्रसिद्ध होने पर पहले तो गाना गाने का ऑफर मिला। जिसमें फिर से उड़ना एल्बम में उन्हें गाने का अवसर मिला जिसमें कोरोना महामारी के बीच सकारात्मक सोच के साथ लोगों को कोरोना वायरस से लड़ने की प्रेरणा देती नजर आई। जी म्यूजिक के बैनर तले उन्होंने कई एल्बम में काम किया है। फिल्मी कैडी एंटरटेनमेंट के निर्माता हरेश तोगानी, सुशील पांडे के प्रयास से वह गाना गा चुकी हैं। गीत के म्यूजिक डायरेक्टर एलके लक्ष्मीकांत हैं। गाने में सिगर बृजेश शांडिल्य ने भी साथ दिया है।

पिता किसान माता गृहिणी
संचिता के पिता इलाके के संपन्न किसानों में एक हैं। जबकि माता गृहिणी हैं। उनके माता-पिता ने बताया कि संचिता को शुरूआत से ही फिल्म के प्रति लगाव था। वो वीडियो बनाकर इंटरनेट पर डालती थी। उनलोगों ने बेटी को कभी रोका नहीं। कहा कि जब तक आप अपने बच्चों पर भरोसा नहीं करेंगे तब तक वो अच्छा नहीं कर सकेंगे।

बेटियों को बढ़ाएं आग
संचिता बसु ने बताया की पैतृक गांव के सभी अभिभावकों से मैं अपील करना चाहूंगी कि वह अपनी अपनी पुत्री को उनके प्रतिभा के अनुरूप उन्हें आगे बढ़ने का अवसर दें एवं उन्हें सहयोग करें। उन्होंने कहा कि गांव में टैलेंट की कमी नहीं है बस आवश्यकता है परख कर उसे निखारने की।

गांव वाले हर्षित

फिल्म में लीड हीरोइन की भूमिका मिलने पर संचिता वसु को गांव के सुबोध यादव, विनोद यादव,प्रमोद यादव,लक्ष्मी यादव,उमेश यादव, बालो यादव,विकास राज,इंदिरा कुमारी,अनीता देवी, रूपेश कुमार,अमरदीप यादव,नीतू कुमारी,पिता सुरेंद्र यादव मां वीणा राय,राजा कुमार,विकास कुमार,राजनंदन, शशि यादव,व्यापार मंडल अध्यक्ष दिनेश यादव उनके आवास पर पहुंचकर बधाई देकर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *