• Wed. Oct 20th, 2021

प्राइवेट हॉस्पिटल ने कोरोना मरीज का बनाया 1.8 करोड़ रुपए का बिल

देश की राजधानी दिल्ली में एक प्राइवेट हॉस्पिटल ने एक मरीज से Covid-19 के इलाज के लिए 1.8 करोड़ रुपये लिए हैं. इतना ज्यादा बिल देख परिवार के होश उड़ गए. यह मामला दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स हॉस्पिटल का है. हॉस्पिटल सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि मरीज को कोविड हुआ था साथ ही उसे निमोनिया की भी शिकायत थी. मरीज कि हालत काफी गंभीर थी, मरीज को लीवर में इन्फेक्शन और क्लॉट्स थे जिसके बाद उसे 75 दिनों तक ऑक्सीजन के सहारे रखना पड़ा. मरीज लगभग 4.5 महीना ICU में रहा, साथ ही हॉस्पिटल में उसे अलग से कमरा दिया गया था.

अस्पताल में 4.5 महीने रहा भर्ती

बताते चलें कि मरीज को 28 अप्रैल को मैक्स हॉस्पिटल (Max Hospital) में भर्ती किया गया था और करीब 4.5 महीने अस्पताल में इलाज के बाद उसे 6 सितंबर को डिस्चार्ज किया गया है.

बढ़ते बिल को लेकर जताई चिंता

इस मामले पर कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी (Manish Tewari) ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया को पत्र लिखा है. कांग्रेस नेता ने मांग की है कि ऐसी घटनाओं से बचने के लिए एक रेगुलेटर नियुक्त किया जाना चाहिए. स्वास्थ्य मंत्री को लिखे पत्र में, तिवारी ने लिखा, ‘मैं आपसे तुरंत स्पष्टीकरण मांगूंगा कि अस्पताल ने एक मरीज से इतनी अधिक राशि क्यों और कैसे ली, चाहे वह कितना भी अस्वस्थ हो या ना हो.’ उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए सरकार को तुरंत एक रेगुलेटर नियुक्त करने के लिए एक विधेयक लाना चाहिए.

आप विधायक ने उठाया मुद्दा

यह मामला तब सामने आया जब आम आदमी पार्टी के मालवीय नगर विधायक सोमनाथ भारती ने मैक्स अस्पताल, साकेत में एक व्यक्ति के कोविड के इलाज के लिए कथित तौर पर 1.8 करोड़ रुपये चार्ज करने को लेकर सवाल किया कि क्या आजतक इतना बिल किसी अस्पताल ने लिया है?