प्रधानमंत्री मोदी की कोलकाता रैली में जुटा भाड़ी जनसैलाब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कोलकाता के ब्रिगेड मैदान में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत लेफ्ट-कांग्रेस के गठबंधन पर जमकर निशाना साधा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कोलकाता के ब्रिगेड मैदान में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि बंगाल ने परिवर्तन लाने के लिए ममता बनर्जी पर भरोसा जताया, लेकिन उन्होंने लोगों को ‘धोखा’ दिया, उनका अपमान किया। बंगाल के लोगों ने दीदी और उनके कार्यकर्ताओं द्वारा विश्वासघात किए जाने के बावजूद आशा नहीं खोई। हम “असल परिवर्तन” लाएंगे, जिसमें सभी की प्रगति होगी, लेकिन किसी का भी तुष्टिकरण नहीं किया जाएगा, घुसपैठ पर रोक लगाई जाएगी। बंगाल के लोग विकास, शांति, सोनार बांग्ला चाहते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, पश्चिम बंगाल में लोकतांत्रिक व्यवस्था खत्म हो गई है। ‘असल परिवर्तन’ चाहते हैं, बंगाल के विकास के लिए 24×7 काम करने का वादा करता हूं। बंगाल में असली परिवर्तन लाएंगे जहां लोगों का सिविल और पुलिस प्रशासन में फिर से विश्वास जगेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने ममता बनर्जी पर कटाक्ष करते हुए कहा, बंगाल ने आपको ‘दीदी’ के रूप में चुना लेकिन आपने अपने भतीजे की ‘बुआ’ बनना पसंद किया। प्रतिद्वंद्वियों द्वारा मित्रों को फायदा पहुंचाने के आरोप लगाए जाने पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, भारत के सभी 130 करोड़ लोग मेरे मित्र हैं, मैं उनके लिए काम करता हूं और हमेशा करता रहूंगा।

पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल में कमल खिलने वाला है क्योंकि टीएमसी ने बंगाल में जो कीचड़ पैदा किया है, उसने ‘लोकतंत्र’ को ‘लूटतंत्र’ में बदल दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “लोकसभा चुनाव में आपने- चुप-चाप कमल छाप से कमाल किया। आपके एक वोट की ताकत आपने कश्मीर से लेकर अयोध्या तक देखी है। इस बार आपको जोर से छाप, TMC साफ के इरादे से आगे बढ़ना है।” प्रधानमंत्री ने कहा कि बीजेपी को बनाने वाले बंगाल के थे। टीएमसी का मूल गौत्र कांग्रेस है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को बनाने वाले बाहरी थे। लेफ्ट को प्रेरणा भी बाहर के लोगों से मिली। बीजेपी के डीएनए में बंगाल के सूत्र हैं।

रैली में अपनी गरीबी का ज़िक्र करते हए प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं भी गरीबी में पला-बढ़ा और इसलिए उनका दुख-दर्द क्या है, चाहे वो हिंदुस्तान के किसी भी कोने में क्यों न हो, क्योंकि वो हमारे दोस्त हैं, उनको मैं भली-भांति अनुभव का सकता हूं। उन्होंने कहा कि इसलिए मैं दोस्तों के लिए काम करता हूं और मैं दोस्तों के लिए ही काम करता रहूंगा। प्रधानमंत्री मोदी ने रैली में कहा, “मेरे आप सभी दोस्त बताइए, दोस्ती चलेगी या तोलाबाजी? बहनों और भाइयों, आपके इसी जोश से दीदी और उनके साथियों की नींद उड़ी हुई है, तभी तो ये लोग कह रहे हैं कि इस बार – खेला होबे।

पीएम मोदी ने कहा कि क्या गरीब की चिंता करना, उसकी सेवा करना हमारा कर्तव्य नहीं है? या हम इस पर भी राजनीति करेंगे? लेकिन अफसोस, TMC सरकार यही कर रही है. हर घर जल पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार जो पैसे भेज रही है, उसका बहुत बड़ा हिस्सा आज तक यहां की सरकार खर्च ही नहीं कर पाई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा वामपंथियों के विरुद्ध ममता दीदी ने पोरिवर्तन का नारा दिया था। पश्चिम बंगाल से मां, माटी, मानुष के लिए काम करने का वादा किया था। पिछले 10 साल से यहां TMC की सरकार है, क्या सामान्य बंगाली परिवार के जीवन में वो परिवर्तन आया जिसकी उसे अपेक्षा थी? आज बंगाल का मानुष परेशान है, वो अपनी आंखों के सामने अपनों का खून बहता देखता है। वो अपनों को अपनी आंखों के सामने लुटते हुए देखता है। वो अपनों को इलाज के अभाव में दम तोड़ते हुए देखता है। पूरा बंगाल अब एक स्वर में कह रहा है- आर नॉय औन्नॉय।

Leave a Reply