पलामू के गैंगस्टर हरी तिवारी ने छोड़ा सुजीत सिन्हा गिरोह, माँ के जरिये जेल से भेजवाया सन्देश

पलामू के डॉन कहे जाने वाले सुजीत सिन्हा के शूटर हरी तिवारी ने सुजीत सिन्हा के गिरोह से रिश्ता तोड़ने का ऐलान किया है. हरि तिवारी ने अपनी मां के जरिए जेल से ये संदेश भिजवाया है. गैंगस्टर हरी तिवारी पलामू के मेदिनीनगर टाउन थाना क्षेत्र के बारालोटा का रहने वाला है और फिलहाल पलामू सेंट्रल जेल में विचाराधिन कैदी है

हरि के खिलाफ कई आपराधिक मामले हैं दर्ज

हरी तिवारी पर पलामू के साथ-साथ रांची, रामगढ़, हजारीबाग और लातेहार समेत कई इलाकों में गंभीर अपराध के मामले दर्ज हैं. सुजीत सिन्हा गिरोह के टॉप-4 गैंगस्टर की सूची में हरि का नाम शामिल है.. आर्म्स एक्ट के मामले में पलामू कोर्ट ने उसे ढ़ाई वर्ष की सजा सुनाई है. इधर, हरी तिवारी की मां कलिंदा देवी ने बताया कि उनके बेटे ने सुजीत सिन्हा का साथ छोड़ दिया है. अब उसका अपराध की दुनिया से कोई लेना देना नहीं है. अब उनका बेटा मुख्यधारा में लौट गया है लेकिन गिरोह के लोग ही उसे फंसाना चाहते हैं. 2019 में रांची और पलामू पुलिस की संयुक्त टीम ने बिहार से हरी तिवारी को गिरफ्तार किया था

जमीन बेच कर मुकदमा लड़ रहा है परिवार

हरी तिवारी की मां कलिंदा देवी बताती हैं कि उन्होंने बेटी की शादी के लिए जमीन बेची थी, लेकिन अब जमीन बेचकर बेटे को छुड़ाने के लिए मुकदमा लड़ रही है. छोटे बेटे को भी लातेहार पुलिस ले गई है. गिरोह के सदस्य उनके बेटों को फंसा रहे हैं. उन्होंने बताया कि उनके बेटे ने जेल से फोन कर बताया है कि उसका सुजीत सिन्हा से अब कोई संबंध नहीं है. उसने किसी से रंगदारी की मांग नहीं की है.

Leave a Reply