नितेश राणे ने गृह मंत्री को लिखी चिट्ठी; दिशा के मंगेतर रोहन राय के लिए मांगी सुरक्षा

दिशा सालियान मामले में भाजपा विधायक नितेश राणे ने गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखकर, दिशा के मंगेतर रोहन राय के लिए सुरक्षा मांगी है। चिट्ठी में नितेश ने लिखा कि ‘दिशा के लिव-इन-पार्टनर रोहन राय से कभी मुंबई पुलिस ने पूछताछ नहीं की जिससे 8 जून की उस घटना के बारे में पता चल पाता जब दिशा ने मलाड बिल्डिंग से कथित रूप से छलांग लगा कर जान दे दी।’ उन्होंने आगे लिखा कि ‘जब दिशा कथित रूप से गिरी थी तब रोहन उस घर में मौजूद थे लेकिन उसके बावजूद भी ऐसा कहा जा रहा है कि वह करीब 20-25 मिनट बाद नीचे गए जो उनके संदिग्ध व्यवहार की ओर इशारा करता है।’

आगे नितेश ने दावा कि ‘या रोहन खुद मुंबई छोड़कर गए या फिर किसी ने उन्हें जांच से बचने के लिए मुंबई छोड़कर जाने को कहा।’ उन्होंने लिखा कि उन्हें लगता है कि ‘रोहन मुंबई लौटने से डरे हुए हैं।’ उन्होंने लिखा कि ‘ऐसा कुछ प्रभावशाली लोगों द्वारा उनपर दवाब बनाने के कारण हो सकता है।’

नितेश ने अंत में ‘गृह मंत्री से रोहन को सुरक्षा देने की मांग की ताकि वह सुरक्षित मुंबई लौटकर आ सके।’ भाजपा नेता ने ये भी कहा कि ‘रोहन का बयान CBI की जांच में बहुत काम आ सकता है’ क्योंकि उन्हें लगता है कि ‘सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान की मौत के बीच कोई लिंक है।’

दिशा सालियान मामले में भाजपा विधायक नितेश राणे ने गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखकर, दिशा के मंगेतर रोहन राय के लिए सुरक्षा मांगी है। बता दें कि दो दिन पहले, नितेश ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी से बात करते हुए दावा किया था कि ‘दिशा ने आत्महत्या नहीं की है और रोहन उस रात का पूरा सच जानते हैं लेकिन किसी दवाब के चलते छिपे हुए हैं।’

चिट्ठी में नितेश ने लिखा कि ‘दिशा के लिव-इन-पार्टनर रोहन राय से कभी मुंबई पुलिस ने पूछताछ नहीं की जिससे 8 जून की उस घटना के बारे में पता चल पाता जब दिशा ने मलाड बिल्डिंग से कथित रूप से छलांग लगा कर जान दे दी।’ उन्होंने आगे लिखा कि ‘जब दिशा कथित रूप से गिरी थी तब रोहन उस घर में मौजूद थे लेकिन उसके बावजूद भी ऐसा कहा जा रहा है कि वह करीब 20-25 मिनट बाद नीचे गए जो उनके संदिग्ध व्यवहार की ओर इशारा करता है।’

आगे नितेश ने दावा कि ‘या रोहन खुद मुंबई छोड़कर गए या फिर किसी ने उन्हें जांच से बचने के लिए मुंबई छोड़कर जाने को कहा।’ उन्होंने लिखा कि उन्हें लगता है कि ‘रोहन मुंबई लौटने से डरे हुए हैं।’ उन्होंने लिखा कि ‘ऐसा कुछ प्रभावशाली लोगों द्वारा उनपर दवाब बनाने के कारण हो सकता है।’

नितेश ने अंत में ‘गृह मंत्री से रोहन को सुरक्षा देने की मांग की ताकि वह सुरक्षित मुंबई लौटकर आ सके।’ भाजपा नेता ने ये भी कहा कि ‘रोहन का बयान CBI की जांच में बहुत काम आ सकता है’ क्योंकि उन्हें लगता है कि ‘सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान की मौत के बीच कोई लिंक है।’

Leave a Reply