• Mon. Jun 21st, 2021

तेजस्वी के साथ आए मांझी, लालू के इस एजेंडे पर अब BJP को घेरा

ByShailesh Kumar

Jun 11, 2021

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी भले ही एनडीए में हो लेकिन इन दिनों उन्होंने बीजेपी की परेशानी ही बढ़ा रखी है। केंद्र की मोदी सरकार और बीजेपी पर निशाना साधने में मांझी को बहुत मजा आ रहा है। नई खबर यह है कि भांजी अब लालू यादव के एजेंडे पर काम करते हुए बीजेपी को घेर रहे हैं।

देश में कोरोना संक्रमण को देखते हुए जनगणना का काम फिलहाल टल रहा है। पिछले दिनों आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी जनगणना कार्य को जल्द शुरू करने की मांग रखी थी। लालू यादव पहले से जाति आधारित जनगणना की मांग करते रहे हैं। अब जीतन राम मांझी भी लालू और तेजस्वी के साथ इस मुद्दे पर खड़े हो गए हैं। जीतन राम मांझी ने ट्वीट करते हुए लिखा है.. वर्तमान स्थिति में देश की जनगणना आवश्यक है परन्तु कोरोना के कारण जनगणना कार्य को रोककर रखा गया है। देश में जब चुनाव हो सकतें हैं तो जनगणना से परहेज़ क्यों? भारत सरकार से अनुरोध है कि 10 वर्षीय जनगणना के साथ-साथ जाति आधारित जनगणना अविलंब शुरू किया जाए।

आपको याद दिला दें कि आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पहले नेताओं में शामिल हैं। जिन्होंने जाति आधारित जनगणना की मांग की थी लालू लगातार यह कहते रहे हैं कि देश में जिसकी जितनी आबादी है उसके हिसाब से उसको उतनी हिस्सेदारी मिलनी चाहिए। इसलिए जरूरी हो जाता है कि जनगणना अब जातीय आधार पर हो। लालू यादव की इस मांग का बाद में नीतीश कुमार ने भी समर्थन किया था। नीतीश कुमार भी इस बात पर सहमत हैं कि देश में जाति आधारित जनगणना होनी चाहिए और जीतन राम मांझी ने भी जाति आधारित जनगणना और कोरोना संक्रमण कम होने के बाद इसे तुरंत शुरू कराए जाने की मांग केंद्र से कर दी है।