• Mon. Jun 21st, 2021

ममता या शुभेंदु ? कौन मरेगा नंदीग्राम में बाज़ी?

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में कौन बाजी मारेगा? ये सवाल सबके मन में है, जिसकी झलक एग्जिट पोल के नतीजों से मिली। एग्जिट पोल के मुताबिक फेज़ टू की सबसे बड़ी पॉलिटिकल ख़बर ये है कि नंदीग्राम से ममता बनर्जी की हार कन्फर्म हो गई है। एग्जिट पोल ने टीएमसी से बीजेपी में आए शुभेंदु अधिकारी की जीत पक्की कर दी है। फेज़ टू की 30 सीटों में भी बीजेपी को भारी बढ़त हासिल है। इस बार बंगाल में बीजेपी की लहर नहीं सुनामी आई है। दूसरे चरण में दीदी को सिर्फ दासपुर और केशपुर में जीत मिलती दिख रही है। बाकी सभी सीटें भगवा रंग में रंग गई हैं।

बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले शुभेंदु अधिकारी ने मंत्री और टीएमसी से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद अधिकारी बीजेपी में शामिल हो गए। शुभेंदु अधिकारी के इस फैसले के बाद ममता बनर्जी ने एलान किया था कि वे नंदीग्राम से ही चुनाव लड़ेंगीं और ममता ने यहीं से नामांकन दाखिल किया। नंदीग्राम में दूसरे चरण में वोट डाले गए थे।

खास बात यह है कि जिस नंदीग्राम की वजह से ममता बनर्जी ने लेफ्ट के 34 साल के शासन को उखाड़ फेंका था, उसी नंदिग्राम से वे इस बार मैदान में हैं और बीजेपी ने कभी ममता के खास सहयोगी रहे शुभेंदु अधिकारी को यहां से अपना उम्मीदवार बनाया है।

2011 में मुख्यमंत्री बनने के बाद ममता बनर्जी ने यहां से उपचुनाव में जीत हासिल की थी। इसके बाद 2016 में वे यहीं से जीतकर दोबारा विधानसभा पहुंचीं, लेकिन इस बार जब उनके सबसे करीबी सहयोगी शुभेंदु अधिकारी टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए, तब ममता बनर्जी ने अधिकारी के गढ़ कहे जाने वाले नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *