• Sat. May 21st, 2022

जदयू नेताओं का होगा परफॉरमेंस टेस्ट, ख़राब रिपोर्ट वालों की लगेगी क्लास

ByRajkumar Raju

Aug 31, 2021

जेडीयू को बिहार की नंबर-1 पार्टी बनाने की कवायद तेज कर दी गई है. इसी तरफ पार्टी के नेताओं ने एक नया एक्सपेरिमेंट किया है. इस नए एक्सपेरिमेंट के तहत पार्टी के सभी पदाधिकारियों को अपने काम की रिपोर्ट हर दिन सौंपनी होगी. जिन पदाधिकारियों का परफॉरमेंस अच्छा होगा उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा और जिनका परफॉरमेंस अच्छा नहीं होगा उनकी क्लास भी लगेगी.

जेडीयू एक मूल्यांकन ऐप लॉन्च करने जा रही है जिसकी मदद से हर दिन पार्टी पदाधिकारियों के कामों की समीक्षा ऐप की टीम और समय-समय पर प्रदेश अध्यक्ष करते रहेंगे. हालांकि, ऐप लॉन्च का डेट अभी तय नहीं किया गया है.

इसकी जानकारी देते हुए प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने बताया कि कार्यकर्ताओं की शिकायत रहती थी कि उनके कामों को उचित सम्मान नहीं मिलता है, इसीलिए अब पार्टी ने तय किया है कि JDU में काम करने वाले कार्यकर्ताओं को काम के अनुसार सम्मान दिया जाएगा. बेहतर करने वाले को सम्मानित किया जाएगा.

उमेश कुशवाहा ने बताया कि इसके लिए JDU ने एक ‘JD(U) Mulyaakan’ app बनाया है. यह पार्टी का इंटरनल ऐप होगा. इसमें प्रखंड अध्यक्ष, विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी, लोकसभा क्षेत्र के प्रभारी, जिला के अध्यक्ष, जिला के पदाधिकारी और प्रदेश के सभी पदाधिकारी शामिल होंगे. इन सभी पदाधिकारियों के काम की समीक्षा होगी.

प्रखंड से लेकर राज्य स्तर के पदाधिकारी इस ऐप पर हर दिन पार्टी के लिए जो काम किये हैं उसे अपलोड करेंगे. इसके बाद राज्य स्तर पर उसकी समीक्षा की जाएगी. प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में एक कमेटी नेताओं के काम की समीक्षा करेगी. इसके लिए प्रदेश कार्यालय में एक मॉनिटरिंग सेल काम करेगा. पूरी रिपोर्ट प्रदेश अध्यक्ष के सामने पेश की जाएगी. उसी आधार पर पदाधिकारियों का मूल्यांकन होगा.