डिविलियर्स के तूफान के बाद RCB के बॉलरों का धमाल, KKR को 82 रनों से पीटा

 

आईपीएल के 13वें सीजन का 28वां मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के नाम रहा. सोमवार रात शारजाह में विराट कोहली की अगुवाई वाली आरसीबी ने कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को 82 रनों से मात दी. 195 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम निर्धारित 20 ओवरों में 112/9 रन ही बना पाई. 33 गेंदों में नाबाद 73 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेलने वाले एबी डिविलियर्स मैन ऑफ द मैच रहे.

 

 

इसके साथ ही बेंगलुरु ने 5वीं जीत हासिल की और 10 अंकों के साथ अब वह अंक तालिका में तीसरे स्थान पर है. यह उसका सातवां मैच रहा. इतने ही मैचों में कोलकाता की यह तीसरी हार रही. केकेआर चौथे स्थान पर खिसक गई.

 

 

195 रनों के लक्ष्य के आगे कोलकाता की टीम कभी भी दबाव से उबर नहीं पाई. शुभमन गिल (34) के अलावा शीर्ष का कोई भी बल्लेबाज चल नहीं पाया. टॉम बेंटन (8), नीतीश राणा (9), इयोन मॉर्गन (8) और दिनेश कार्तिक (1) जैसे धुरंधर सस्ते में लौटे.

 

बाद में जिम्मेदारी आंद्रे रसेल और राहुल त्रिपाठी पर आई, लेकिन यह जोड़ी भी कुछ नहीं कर पाई. रसेल 16 रन बना पाए. आगे त्रिपाठी (16) भी कोई चमत्कार नहीं दिखा पाए.

 

बेंगलुरु की ओर से ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर ने 4 ओवरों में 20 रन देकर 2 विकेट निकाले. कलाई के स्पिनर युजवेंद्र चहल (4 ओवरों में 12 रन) ने एक सफलता हासिल की. कोहली ने केकेआर पर दबाव बनाने के लिए स्पिनरों का सही समय पर इस्तेमाल किया. पेसर क्रिस मॉरिस ने 2 (4 ओवरों में 17 रन) विकेट झटके. इसुरु उदाना, नवदीप सैनी और मो. सिराज को एक-एक सफलता मिली.

 

 

 

गिल के ‘रन आउट’ होने से बिगड़ा खेल

 

केकेआर ने पावर प्ले में सलामी बल्लेबाज टॉम बेंटन का विकेट ही गंवाया था, जिन्हें नवदीप सैनी ने बोल्ड किया. पर उनके जोड़ीदार शुभमन गिल (34 रन) का रन आउट होना टीम के लिए नुकसानदायक रहा, वह अच्छी लय में थे, पर विकेटकीपर डिविलियर्स ने शानदार तरीके से उन्हें रन आउट किया. हालांकि फिंच ने इससे पहले गिल का कैच छोड़ा भी था.

 

कप्तान दिनेश कार्तिक का बल्ला नहीं चला

 

गिल से पहले नीतिश राणा (9) सुंदर की गेंद पर बोल्ड हुए थे. इससे टीम ने 55 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे. अब टीम को किसी बल्लेबाज के टिककर खेलने की जरूरत थी, लेकिन कप्तान कार्तिक दो गेंदें खेलने के बाद 11वें ओवर में चहल की गेंद पर बोल्ड हो गए, हालांकि वह स्पिन को बखूबी खेलते हैं, लेकिन दबाव का असर उन पर दिखा.

 

रसेल ने शुरू किया था हमला, पर लपके गए

 

इंग्लैंड की सीमित ओवर टीम के कप्तान इयोन मॉर्गन अगले ओवर में सुंदर की गेंद का शिकार हुए. आंद्रे रसेल (10 गेंद में दो चौके और एक छक्के से 16 रन) ने रंग में आना शुरू ही किया था, उन्होंने 14वें ओवर में इसुरु उदाना पर एक छक्का और दो चौके लगाए, लेकिन पांचवीं गेंद पर बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में एक्स्ट्रा कवर पर मोहम्मद सिराज को कैच दे बैठे.

 

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने 194/2 रन बनाए थे

 

इससे पहले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने एबी डिविलियर्स की 33 गेंदों में 73 रनों की आक्रामक अर्धशतकीय पारी और कप्तान विराट कोहली (नाबाद 33 रन) के साथ तीसरे विकेट के लिए 100 रनों की नाबाद साझेदारी से 194/2 का विशाल स्कोर खड़ा किया.

 

डिविलियर्स ने अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से अपनी पारी के दौरान 5 चौके और 6 छक्के जड़े. पिछले मैचों में अच्छा नहीं कर पाने के बाद वह भी बड़ी पारी खेलने के लिए बेताब थे और उन्होंने आते ही अपने तेवर दिखा दिए.

 

डिविलियर्स ने की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी

 

डिविलियर्स की आक्रामकता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कोहली के साथ उन्होंने 46 गेंदों में से 33 गेंद का सामना किया. इससे टीम ने अंतिम पांच ओवरों में 83 रन जोड़े.

 

 

केकेआर के गेंदबाज कमलेश नागरकोटी (4 ओवरों में 36 रन) ने 3 ओवरों में केवल 17 रन दिए थे. लेकिन उनके चौथे और टीम के 16वें ओवर में डिविलियर्स ने लगातार गेंदों को छक्कों के लिए भेजने के बाद एक चौका जड़ा. जिससे इस ओवर में 18 रन जुड़े. डिविलियर्स की आक्रामकता की शुरुआत यहीं से हुई.

 

 

अब 16वें ओवर तक आरसीबी का स्कोर दो विकेट पर 129 रन था. डिविलियर्स ने पैट कमिंस के अगले ओवर में दो छक्के और एक चौके से 19 रन बटोरे.

 

कोहली ने डिविलियर्स को ज्यादा गेंदें खेलने दीं

 

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 52 गेंदों में नाबाद 90 रनों की पारी खेलकर फॉर्म में वापसी करने वाले कोहली ने भी डिविलियर्स को ज्यादा गेंद खेलने दीं और दूसरे छोर पर उनका अच्छा साथ निभाते रहे, उन्होंने 28 गेंदें खेली जिसमें केवल एक चौका शामिल था.

 

 

टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी आरसीबी के लिए सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच भी हालांकि पिछले तीन खराब प्रदर्शन के बाद वापसी करने में सफल रहे और उन्होंने 47 रनों (37 गेंदों में चार चौके और एक छक्का) की पारी खेली तथा देवदत्त पडिक्कल (32) ने पहले विकेट के लिए 7.4 ओवरों में 67 रनों की भागीदारी निभाई.

 

फील्डिंग में KKR के खिलाड़ियों की काफी चूक

 

मैच के दौरान फील्डिंग में केकेआर के खिलाड़ियों ने काफी चूक की, जिनका फायदा भी आरसीबी को मिला जिसने पावर प्ले में बिना विकेट गंवाए 47 रन बना लिये. आरसीबी ने पहला विकेट पडिक्कल के रूप में खोया, जो आंद्रे रसेल की गेंद पर बोल्ड हो गए.

 

फिंच अच्छी शुरुआत के बाद बड़ी पारी खेलने की ओर बढ़ रहे थे. लेकिन अर्धशतक से महज तीन रन पहले वह 13वें ओवर में प्रसिद्ध कृष्णा की यॉर्कर पर बोल्ड हो गए, जिसके बाद डिविलयर्स ने कमाल की पारी खेली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.