IPL 2020: जानिए पुरस्कार विजेताओं ने इस बार जीती कितनी प्राइज मनी

नई दिल्लीः चारों और फैली खामोशी के बीच प्रतिष्ठित दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में चल रहे इंडियन प्रीमियर लीग के बहुप्रतीक्षित 13वें संस्करण का अंतिम प्रदर्शन दिल्ली और मुंबई की टीमों के बीच हुआ जहां एमआई ने बाजी मारी।

दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करने के लिए अच्छी शुरुआत नहीं की, क्योंकि शुरुआती झटको ने उनको आहत किया। ओपनिंग जोड़ी- मार्कस स्टोइनिस और शिखर धवन इस बार नहीं चल सकी। लेकिन किसी तरह टीम के जहाज को आगे बढ़ाते हुए, ऋषभ पंत ने श्रेयस अय्यर के साथ 96 रन की साझेदारी की जिससे टीम किसी तरह 156 तक पहुंच पाई।

मुंबई इंडियंस का कमाल-

जवाब में, रोहित शर्मा और क्विंटन डी कॉक के रूप में मुंबई की अनुभवी सलामी जोड़ी ने अपनी तेजी साबित करते हुए टीम को पहले विकेट के लिए एक ठोस साझेदारी दी। 4.1 ओवर में 1 विकेट पर 45 रन वाली चैंपियन टीम ने फिर पीछे की ओर पीछे मुड़कर नहीं देखा।

घातक गेंदबाजी के खिलाफ 68 रन बनाने के बाद प्रीमियर बल्लेबाज रोहित शर्मा कैच आउट हुए तो बाद में यह इशान किशन थे जिन्होंने 33 * रनों की तेज पारी खेली।

पुरस्कार विजेताओं को कितनी ईनाम राशि मिली है-

आइए देखते हैं इस बार पुरस्कार विजेताओं को कितनी ईनाम राशि मिली है-

विजेता: मुंबई इंडियंस (MI)- 20 करोड़ रुपए

उपविजेता: दिल्ली कैपिटल्स (DC)- 12.5 करोड़ रुपए

क्वालीफायर हारने वाली टीम (SRH)- 8.75 करोड़ रुपए

क्वालीफायर हारने वाली टीम (RCB)– 8.75 करोड़ रुपए

फेयरप्ले अवार्ड: मुंबई इंडियंस (MI)-

ऑरेंज कैप: केएल राहुल- 10 लाख रुपए

पर्पल कैप: कगिसो रबाडा- 10 लाख रुपए

सर्वाधिक मूल्यवान खिलाड़ी: जोफ्रा आर्चर- 10 लाख रुपए

उभरते खिलाड़ी: देवदत्त पडिक्कल – 10 लाख रुपए

गेम चेंजर ऑफ द सीजन: केएल राहुल- 10 लाख रुपए

सुपर-स्ट्राइकर ऑफ द सीजन: कीरोन पोलार्ड- 10 लाख

सबसे ज्यादा छक्के: इशान किशन- 10 लाख रुपए

सीजन का पावरप्लेरयर: ट्रेंट बोल्ट- 10 लाख रुपए

रोहित ने कहा- बहुत पहले तैयारी शुरू हो गई थी

दिल्ली ने 157 रनों लक्ष्य रखा था जिसे मुंबई ने 18.4 ओवर में हासिल कर लिया। मैच के बाद रोहित ने बयान देते हुए खिलाड़ियों के प्रदर्शन की प्रशंसा की। रोहित शर्मा ने कहा, ”मैं इस बात से काफी खुश हूं कि पूरे सीजन में चीजें कैसे हुईं। हमने शुरुआत में कहा कि हमें जीत की आदत की जरूरत है। हमने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। मुझे लगता है कि पर्दे के पीछे काम करने वाले लोगों को बहुत अधिक श्रेय जाता है। अक्सर वे किसी के ध्यान में नहीं जाते हैं। हमारा काम आईपीएल शुरू होने से बहुत पहले शुरू हो गया था।’

Leave a Reply