• Thu. Jul 29th, 2021

The Voice of Bihar-VOB

खबर वही जो है सही

दो पत्नियों के बीच पति का बंटवारा, 3 दिन पहली, 3 दिन दूसरी पत्नी के साथ रहेगा, रविवार को मनाएगा छुट्टी

ByRajkumar Raju

Jun 19, 2021

फेसबुक पर प्यार और फिर लिव इन के दौरान गर्भवती हुई युवती को उसके बच्चे के पिता का हक मिल गया है। प्रेमी को ढूंढते-ढूंढते रामपुर पहुंची प्रेमिका ने युवक से निकाह कर लिया है। हालांकि प्रेमी पहले से शादीशुदा था। काफी देर चले हंगामे के बाद युवक की पहली पत्नी भी पति की दूसरी शादी से मान गई है। प्रेमिका से निकाह के बाद पंचायत ने दोनों पत्नियां के बीच पति का बंटवारा किया है। बंटवारे के दौरान दोनों महिलाओं और युवक के माता-पिता का भी ख्याल रखा गया है।

मामला रामपुर जिले के अजीमनगर थाना क्षेत्र के दौकपुरी टांडा गांव का था। गांव निवासी युवक तकमील अहमद चंडीगढ़ में बाल कटिंग का काम करता था। फेसबुक पर युवक की दोस्ती आसाम की युवती परवीन से हुई। युवक ने खुद को बिना शादीशुदा बताया तो युवती आसाम से उसके पास चंडीगढ़ आ गई। तीन महीने साथ रहने के बाद युवक बिना बताए अपने गांव को चला आया। एक महीने तक जब युवती की युवक से बात ना हुई तो वह भी वापस आसाम चली गई।

अपने घर ना जाकर युवती किसी किराए के मकान में रहने लगी। 6 महीने के बाद युवती ने एक बच्चे को जन्म दिया। बिन ब्याही मां बच्चे के पिता को लेकर अंदर ही अंदर घुटने लगी। बच्चा जब 3 महीने का हुआ तो उसके पिता को ढूंढने का संकल्प लेकर घर से निकल पड़ी। कई महीने इधर-उधर ठोकरे खाने के बाद युवती रामपुर पहुंची। महिला आयोग और पुलिस की मदद से युवती आरोपी युवक तक पहुंच गई। रामपुर वन स्टॉप सेंटर में पहली पत्नी से हुए समझौते के बाद बिन ब्याही बच्चे की मां को उसका पति मिल गया। गांव निवासी पूर्व प्रधान मुरारीलाल ने बताया दोनों पत्नियों में हुए समझौते के बाद निकाह करा दिया गया है।

पंचायत ने दोनों पत्नियों को दिन बांटे
बिन ब्याही बच्चे की मां निकाह के बाद पति के घर आ गई। लेकिन पहली पत्नी के बीच कोई मनमुटाव ना हो पंचों ने दोनों पत्नियों के बीच दिनों का बंटवारा कर दिया। समझौते में तय हुआ युवक सोमवार मंगलवार बुधवार पहली पत्नी के साथ रहेगा। जबकि बृहस्पतिवार शुक्रवार और शनिवार दूसरी पत्नी के साथ। शेष बचा एक दिन रविवार को युवक अपने माता-पिता की खिदमत करेगा।

पहली पत्नी मैसेंजर दूसरी फेसबुक से बनी दोस्त
युवक ने पहली शादी 3 साल पहले बेंगलुरु में की थी। बेंगलुरु में काम करते समय मैसेंजर पर उसकी दोस्ती रुद्रपुर की लड़की से हुई। बात आगे बढ़ी तो युवती रुद्रपुर से बेंगलुरु पहुंच गई और कुछ सम्मानित लोगों ने उनका निकाह कराया। जबकि दूसरी युवती फेसबुक से दोस्ती के बाद पत्नी बनी।

गांव में युवक की तीसरी पत्नी की भी चर्चा
ग्रामीणों के मुताबिक युवक की तीसरी पत्नी हल्द्वानी में रहती है। युवक की हकीकत जिस दिन तीसरी पत्नी को मालूम होगी वह भी गांव दौकपुरी टांडा पहुंच जाएगी। फिलहाल यह तो उसके आने पर ही सिद्ध होगा।

वन स्टॉप सेंटर मैनेजर चांद बी ने बताया, काउंसलिंग के बाद दोनों पक्षों में समझौता हो गया है। युवक और युवती का आपस में निकाह हो गया है। दोनों पत्नियों ने दिन बांट लिए हैं, इसके बारे में मुझे ज्यादा जानकारी नहीं।