गुप्तेश्वर पांडेय का बयान, सुशांत के न्याय के लिए अंतिम दम तक लडूंगा

 

बिहार के डीजीपी अपने व्यक्तित्व के लिए बिहार में काफी पॉपुलर हैं। समय समय पर उनसे जनता से रु ब रु होना। पदाधिकारी होकर जनता के साथ हिलना मिलना और उनके व्यवहार की सहजता उन्हें आम लोगों से जोड़ती हैं. आपराधिक मामला हो या लॉक डाउन को लेकर जनता से अपील या फिर सुशांत मामला ही क्यों न हो सभी मामलों पर सक्रिय होकर जनता से रु ब रु रहे.

अपने एकदिवसीय यात्रा में बक्सर पहुंचे डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा है कि वे अंतिम साँस तक सुशांत के न्याय के लिए लड़ाई लड़ेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि रिया के बचाव में इमोशनल कार्ड खेला जा रहा है.

सुशांत मामले में उन्होंने कहा है कि यह केवल गुप्तेश्वर पांडेय की जीत नहीं बल्कि पूरे बिहार की जीत है. सुशांत बिहार का बेटा था. उन्होंने कहा सीएम का हमें साथ मिला और हमने मामले को आगे बढ़ाने में कामयाब रहे हैं. उन्होंने रिया के मामले में कहा है कि मई शुरू से ही कह रहा था कि उसका व्यवहार संदेहास्पद है. जब बिहार में रिया के खिलाफ में मामला दर्ज किया गया और बिहार की टीम मुंबई पहुंची तो रिया खुद को छुपा रही थी और बच रही थी।

हमने हर बार, बार -बार अपील की है कि हमारी टीम से रिया मिले मगर वह गायब हो गई और गृह मंत्रालय से सीबीआई की जांच की अपील की। लेकिन जब जाँच टीम के हाथों रिया गिरफ्तार हुई और उसका खुलासा हुआ तो सचाई सब के सामने हैं. वह ड्रग टीम के एक्टिव मेंबर निकली और दुनिया की आँख खुल गई।

 

Leave a Reply