भागलपुर में कल से शुरू होगा मुफ्त मोतियाबिन्द ऑपरेशन शिविर, स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे करेंगे उद्घाटन

  • 15 दिसंबर को 25000 मोतियाबिंद आपरेशन हेतु मेगा शिविर आयोजित करने के लिए व्यवस्था निरीक्षण सम्पन्न

  •  मोतियाबिन्द आपरेशन हेतु 10 प्रचार वाहन से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है

  • पंजीकरण के लिए मोबाइल नंबर 9879734178, 8210532424 एवं 8789688596 जारी किया गया

  • केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे शिविर का उद्घाटन करेंगे

 

संस्था श्रीरणछोड़दासजी बापू चैरिटेबल हॉस्पिटल, राजकोट, गुजरात द्वारा अभी तक गरीब मरीज का 7,56,531मोतियाबिंद ऑपरेशन मुफ्त में किया है। साथ ही समाज में सेवा कार्य के द्वारा नर सेवा नारायण सेवा के भाव से निरंतर कार्य कर रहें हैं। 

 

भागलपुर में कल 15 दिसंबर को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे मुख्य अतिथि के रूप में शिविर का 10 बजे सुबह उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता युवा समाजसेवी एवं कार्यक्रम संयोजक अर्जित शाश्वत चौबे करेंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में भागलपुर सिविल सर्जन विजय कुमार सिंह, अधीक्षक जेएलएनएमसीएच डॉ आर सी मंडल, आईएमए अध्यक्ष डॉ संजय कुमार, डॉ चंद्रमौलि उपाध्याय, प्राचार्य डॉ हेमंत कुमार, रजिस्ट्रार तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय अनिल कुमार सिंह, ईस्टर्न बिहार चैम्बर आफ कॉमर्स अध्यक्ष अशोक भिवानीवाला, मोती मातृ सेवा सदन के प्रधान ट्रस्टी नवनीत डोकानिया, संरक्षक लक्ष्मीकांत डोकानिया, लायंस के पूर्व डिस्ट्रिक्ट गवर्नर अनुपम सिंघानिया आदि मुख्य रूप से कार्यक्रम की शोभा बढ़ाएंगे।

 

विशेष रूप से सहयोग कर संयोजक अर्जित चौबे 3 महीनों के इस मोतियाबिन्द आपरेशन शिविर को सफल बनाने के लिए अपना योगदान पिछले एक माह से दे रहें हैं। आज कार्यक्रम संयोजक अर्जित चौबे ने सम्पूर्ण स्थल का जायजा लिया। करोड़ों रुपये का फेको मशीन एवं फोल्डेबल लेंस भी विशेष कक्ष में संरक्षित किया गया है ताकि किसी तरह का इंफेक्शन नही हो। आपरेशन के लिए अन्य जरूरी सामग्री जिसमे स्पिरिट, सुई, दवा, रुई आदि भी आपरेशन कक्ष में रखा जा चुका है।

 

मैनेजिंग ट्रस्टी प्रवीण वसानी ने कहा कि अर्जित चौबे के निर्देशन पर सम्पूर्ण भागलपुर प्रमंडल के लिए 2 रथ एवं 8 प्रचार वाहन मोतियाबिन्द आपरेशन के जागरूकता के लिए कल हरी झंडी दिखाकर मोती मातृ सेवा सदन से रवाना किया गया था। जिनको भी मोतियाबिन्द का आपरेशन कराना है वो केवल मोबाइल नंबर 9879734178, 8210532424 एवं 8789688596 पर सीधा संपर्क कर अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर बताएं एवं अपना निःशुल्क पंजीकरण कराएं। मोती मातृ सेवा सदन , नया बाजार जाकर कोई भी व्यक्ति 15 दिसंबर से होने वाले मेगा आपरेशन के लिए सीधे पंजीकरण करा सकते हैं। जो भी मरीज अपना आपरेशन कराना चाहते हैं उन्हें पहले दिन सुबह पंजीकरण कराकर शिविर में भर्ती होने पड़ेगा और दूसरे दिन शाम में उन्हें घर विदा कर दिया जाएगा। पहले दिन के लिए जिनका पंजीकरण होगा उन्हें दावा आदि आंखों में डालने हेतु भर्ती होने होगा जिसके बाद उनका दूसरे दिन आपरेशन कर शाम में किट देकर घर भेज दिया जाएगा।

 

कार्यक्रम साहयक सह संयोजक अर्जित चौबे ने कहा कि जितने भी मरीज जिन्हें मोतियाबिन्द है वो शिविर में आकर इसका लाभ लें और स्वस्थ होकर अपने घर जाएं। उनके आने जाने, रहने खाने आदि की व्यवस्था बिल्कुल निःशुल्क की गई जिसका लाभ ले एवं औरों को भी दिलवाएं। उन्होंने आव्हान किया कि इस प्रकार के सेवा से हज़ारों आंखों को रोशनी मिलेगी जो दैवीय कार्य है।

 

15 दिसंबर 2019 से 15 मार्च 2019 तक 25 हज़ार मरीजों के लिए मुफ्त में फेको मशीन द्वारा मोतियाबिंद आपरेशन किया जाएगा ताकि भागलपुर क्षेत्र को भी कैटरैक्ट फ्री किया जा सके। इसी संदर्भ में आज स्थानीय मोती मातृ सेवा सदन, सखिचन्द घाट रोड, नया बाजार, भागलपुर से ऑडियो, हैंडबिल, पोस्टर, विवरण युक्त एक अतिरिक्त जागरूकता रथ एवं 4 प्रचार वाहन यानी कुल 10 वाहनों को रवाना किया गया है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को निःशुल्क मोतियाबिन्द आपरेशन की जानकारी मिल सके और मरीजों को नेत्र बिंदु प्रदान कर लाभ दिया जा सके जिससे वे दुनिया को देख सकें। इसके साथ ही नुक्कड़ नाटक का 2 दाल भी जागरूकता के लिए सम्पूर्ण भागलपुर प्रमंडल में घूम-घूम कर प्रचार प्रसार कर रहा है।

 

ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी प्रवीण भाई वसानी ने कहा कि जितने भी मरीज हैं वे हमारे लिए भगवान हैं और उनका सेवा ही हमारा कर्तव्य है। फोल्डेबल लेंस लगाकर फेको मशीन से मोतियाबिन्द का ऑपरेशन करने में एक मरीज पर 10 से 15 हज़ार का खर्च आता है। उन्होंने कहा कि करोड़ों रुपये की लागत से कीमती मशीन, फोल्डेबल लेंस, सामग्री आदि लेकर 110 लोग भागलपुर आ चुके हैं जिसमे पारा मेडिकल स्टाफ, नर्स आदि भी आ रहें हैं। 8 नेत्र चिकित्सक भी भागलपुर पहुंच चुके हैं। उन्होंने कहा कि गुरुजी कहते थे कि मुझे भूल जाना मगर नेत्रयज्ञ को नही भूलना और मरीज ईश्वर का ही रूप होता है। 1978 से लगातार हमारा ट्रस्ट 7लाख57हज़ार मोतियाबिन्द आपरेशन कर चुका है जो आजतक भारत भर में किसी भी संस्था ने नही किया है। गुरुजी कहते थे कि गुजरात, छत्तीसगढ़, एमपी, झारखंड, बिहार सहित कई नेत्रयज्ञ कैम्प लगाए गए हैं जहां गरीब लोगों को दिव्य गुरुदृष्टि रूपी आंख की नई रोशनी प्रदान की जाती है। पिछले वर्ष आधुनिक फेको मशीन से सॉफ्ट फोल्डबले लेंस लगाकर कुल 52,255 आपरेशन कर आंखों को रोशनी दी गयी।

 

प्रवीण भाई वसानी ने बताया कि 15दिसंबर 2019 से 15 मार्च 2020 तक लगने वाले इस शिविर में जो भी आएगा उसका सर्वप्रथम टेस्ट कर हिस्ट्री लिया जाएगा इसके बाद उसे भर्ती किया जाएगा। 2 दिनों तक 4 समय का भोजन नाश्ता सभी मुफ्त दिए जाएंगे। घर से आने जाने के लिए 100 रुपया दिया जाएगा। यहां शिविर में रहने की व्यवस्था की जाएगी एवं उनके एक अटेंडेंट की भी रुकने और भोजन की व्यवस्था की जाएगी। उन्हें कंबल भी ले जाने को दिया जाएगा। जाते वक्त एक किट दिया जाएगा जिसमे एक काला चश्मा, टीपा, दवा, और प्रसाद स्वरूप शुद्ध घी की बूंदी लड्डू दी जाएगी। सभी मरीजों को भगवान मानते हुए उनका पूजन आरती भी किया जाएगा। इस नेत्र आपरेशन शिविर का मुफ्त पंजीकरण यहां मोती मातृ सेवा सदन में प्रारंभ हो चुका है। अगर किसी भी व्यक्ति के आस पास कोई भी मरीज जिसके एक या दोनों आंखों में मोतियाबिन्द है वो पंजीकरण कराकर निःशुल्क अपना आपरेशन करवा सकते हैं एवं अपन कीमती 10से 15 हज़ार भी बच सकते हैं। आधुनिक तकनीक फेको मशीन द्वारा राजकोट गुजरात से आये प्रभावी डॉक्टरों और पारा मेडिकल की टीम आपरेशन करने का लंबा अनुभव रखती है जो विश्व स्तर का है। मोती मातृ सव्वा सदन में रंगारोगन, टाइल्स, एसी आदि लगाकर नविनतम 4 आपरेशन थिएटर बनाये गये हैं जो उच्च्तम मानक के हैं और जिला अंधापन निवारण समिति द्वारा दिये गए मानक के अनुरूप हैं। ये मानव सेवा माधव सेवा के लिए किया जा रहा कार्य है जिससे हज़ारों गरीब लोग नई नेत्र से दुनिया को देख पाएंगे।

 

प्रवीण भाई वसानी के अलावा अभय घोष सोनू, सुधीर चौधरी, संजय भट्ट, प्रमोद वर्मा, निरंजन चंद्रवंशी, नरेंद्र कुमार, प्रफुल्ला बेन,जिगना बेन,कोकिला बेन, बिंदु बेन वसानी, अनिरुद्ध, राजू, अरबिंद, अजीज भाई, कल्पेश भाई आदि प्रमुख रूप से अवलोकन एवं निरीक्षण में उपस्थित थे।

Leave a Reply