टीम इंडिया की जर्सी पहनकर मैदान पर उतरे भारत के पूर्व तेज गेंदबाज S.Sreesanth

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S. Sreesanth) मैच फिक्सिंग के आरोपों में सात साल का प्रतिबंध होने के बाद स्थानीय टी20 टूर्नामेंट के साथ प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी करेंगे. इस टूर्नामेंट का आयोजन केरल क्रिकेट संघ करवा रहा है. आईपीएल (IPL) में स्पॉट फिक्संग में कथित रूप से शामिल होने के आरोप में बीसीसीआई द्वारा प्रतिबंधित श्रीसंत को अलप्पुझा में होने वाले टी20 टूर्नामेंट के खिलाड़ियों की सूची में जगह मिली है. उनका प्रतिबंध इस साल सितंबर में खत्म हुआ. श्रीसंत ने इसके लिए तैयारी भी शुरू कर दी है. वह टीम इंडिया की जर्सी में गेंदबाजी का अभ्यास करते हुए भी नजर आए.

केसीए के अधिकारी ने बताया कि टूर्नामेंट में श्रीसंत को केसीए टाइगर्स टीम में जगह मिली है जिसकी कप्तानी राज्य की टीम के कप्तान सचिन बेबी करेंगे. केसीए के अनुसार पहले केसीए प्रेसीडेंट्स कप टी20 टूर्नामेंट के लिए गठित समिति ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए छह टीमों केसीए रॉयल्स, केसीए टाइगर्स, केसीए टस्कर्स, केसीए ईगल्स, केसीए पैंथर्स और केसीए लॉयन्स को चुना है.

केसीए ने बताया कि श्रीसंत और सचिन बेबी के अलावा बासिल थंपी, रोहन प्रेम, मिधुन एस, आसिफ केएम और राज्य के अन्य सीनियर खिलाड़ी टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगे. सितंबर में प्रतिबंध खत्म होने के बाद श्रीसंत इस टूर्नामेंट के साथ वापसी करेंगे.

इस 37 वर्षीय तेज गेंदबाज ने इससे पहले कहा कि उन्‍हें मौका देने के लिए वह चयनकर्ताओं के बहुत आभारी हैं. वह इस पल का पिछले सात सालों से इंतजार कर रहे थे. केसीए ने कहा कि वह अलप्पुझा में 17 दिसंबर से तीन जनवरी तक टूर्नामेंट के आयोजन के लिए सरकारी अधिकारियों की स्वीकृति का इंतजार कर रहे थे. इस टूर्नामेंट के दौरा कोविड-19 नियमों का पालन किया जाएगा.

Leave a Reply