नरेंद्र मोदी की सभा में कोरोना का डर: मंच पर बैठने वालों से लेकर सुरक्षाकर्मियों का हुआ टेस्ट

बिहार विधानसभा चुनाव में पहली दफे चुनाव प्रचार के लिए आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में कोरोना से बचाव के सारे इंतजाम किये गये हैं. प्रधानमंत्री की सभा में मंच पर चुनिंदा नेताओं को जगह मिली है. उपर से शर्त ये रखा गया है कि वही मंच पर बैठ पायेंगे जिन्होंने पिछले दो दिनों के भीतर अपना कोरोना टेस्ट कराया होगा. मंच पर बैठने वालों की कौन कहे मंच के इर्द गिर्द रहने वालों का भी कोरोना टेस्ट कराया गया है.

प्रधानमंत्री के सभा स्थल के मैदान में भी 6 फीट की दूरी पर कुर्सियां लगायी गयी हैं. नरेंद्र मोदी जिस जिले में जायेंगे वहां के एनडीए उम्मीदवार सभा में आयेंगे लेकिन उनके लिए अलग से मंच होगा. प्रधानमंत्री शुक्रवार को तीन जनसभाओं को संबोधित करेंगे.

भागलपुर में 205 लोगों का हुआ टेस्ट

प्रधानमंत्री की सभा से एक दिन पहले भागलपुर में 205 लोगों की कोरोना जांच की गयी. जिले के सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह ने बताया कि गुरुवार को 155 लोगों के सैंपल पुलिस लाइन में और 50 लोगों के सैंपल सदर अस्पताल में लिए गए. सभी सैंपल की जांच आरटी-पीसीआर मशीन से की गयी है. जिन लोगों की जांच की गयी है उनमें उनमें पीएम की रैली में ड्यूटी करनेवाले अफसर, सत्ता पक्ष से जुड़े नेता,  बीएमपी, पुलिस के लोग और एसपीजी के जवान शामिल हैं. ये वही लोग हैं, जिनकी पीएम नरेंद्र मोदी की सभा में वीवीआईपी एरिया से लेकर मंच तक ड्यूटी लगी है.

कोरोना को लेकर खास सतर्कता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का खुद निर्देश दिया है. लिहाजा रैली स्थल पर 6 फीट की दूरी पर कुर्सियां लगायी जा रही हैं. सासाराम, गया और भागलपुर की रैली में 5 से 7 हजार कुर्सियां लगायी गयी हैं. मंच पर बैठने वालों का खास ख्याल रखा जा रहा है. मंच पर उन्हीं लोगों को बैठने की इजाजत होगी जिन्होंने पिछले दो दिनों के अंदर कोरोना का टेस्ट कराया होगा. प्रधानमंत्री की सभा जिस जिले में होगी वहां के एनडीए उम्मीदवार सभा में आयेंगे. लेकिन उन्हें प्रधानमंत्री के मंच पर जगह नहीं मिलेगी. उम्मीदवारों के लिए अलग से मंच बनवाया गया है. उन्हें वहीं बैठना होगा.

प्रधानमंत्री की आज तीन जनसभा

नरेंद्र मोदी की पहली सभा सासाराम में होगी. दिन के 11 बजे वे चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे. इस सभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सांसद डॉ संजय जायसवाल, स्थानीय सांसद छेदी पासवान मौजूद रहेंगे. सासाराम की रैली से भाजपा के 12, जदयू के 12 और वीआईपी के 1 उम्मीदवार एनडीए कार्यकर्ताओं के साथ अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र से पीएम की रैली से वर्चुअल रूप से जुड़ेंगे.

प्रधानमंत्री की दूसरी सभा दिन के एक बजे गया में होगी. इस सभा में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय, पूर्व सीएम जीतन राम मांझी, सांसद ललन सिंह, चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी भी मौजूद रहेंगे. सिंह और चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी सहित अन्य नेता मौजूद रहेंगे। गया की रैली में भाजपा के नौ, जदयू के छह और हम के चार उम्मीदवार अपने विधानसभा क्षेत्रों से एनडीए कार्यकर्ताओं के साथ वर्चुअल रूप से जुड़ेंगे.

प्रधानमंत्री की आखिरी रैली भागलपुर में तीन बजे होगी. इस रैली में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत एनडीए के 6 नेता मौजूद रहेंगे. भागलपुर की इस रैली से भाजपा के 10, जदयू के 13 और हम के एक उम्मीदवार अपने विधानसभा क्षेत्रों से वर्चुअल रूप से जुडेंगे.

उपद्रव से निपटने की तैयारी

प्रधानमंत्री की रैली में विपक्षी उपद्रव नहीं मचा पायें इसकी विशेष तैयारी की गयी है. प्रधानमंत्री की सभा में कोई काला झंडा लेकर नहीं आए या फिर कोई खिलाफ में नारेबाजी नहीं कर पाये इसके लिए हर गैलरी में कार्यकर्ताओं को लगाया गया है. कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया गया है कि वे उपद्रव फैलाने वालों को तत्काल सभा स्थल से बाहर करें.

Leave a Reply