• Sun. Sep 26th, 2021

एक्शन में लेडी सिंघम लिपि सिंह, शराब की बड़ी खेप का भंडाफोड़ और कुरियर कंपनी लूटकांड का किया खुलासा

BySatyavrat Singh

Aug 2, 2021

सहरसा :- रविवार की देर शाम सदर थाना क्षेत्र के विद्यापति नगर मोहल्ला के बीच अवस्थित प्रियदर्शी विवाह भवन पर पुलिस ने छापामारी की । जहां टिन की डब्बे में छिपाकर रखी शराब की बोतलों को बरामद किया गया। मौके से पूछताछ के लिए कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। इस छापेमारी का नेतृत्व एसपी लिपि सिंह ने किया।

छापेमारी में सदर थाना अध्यक्ष सह प्रशिक्षु डीएसपी निशिकांत भारती, आईटी सेल प्रभारी मंगलेश कुमार मधुप सहित कई पुलिस पदाधिकारी और जवान मौजूद थे। विवाह भवन के स्टोर में छिपाकर रखी गई किसान शीरा के टिन के सील बंद डिब्बे को खोला गया। सील पैक टिन के डब्बे के भीतर अंग्रेजी शराब की कई बोतलें छिपा कर रखी गई थी। बाहर से दिखने पर उक्त टिन के डिब्बे के अंदर किसान शीरा रस होना बता रहा था। जिसकी आड़ में शराब का अवैध कारोबार किया जा रहा था। करीब दर्जनों ऐसे टिन के डब्बे बरामद हुए हैं। जिसमें शराब की बोतल थी। देर रात तक छापामारी जारी ही था। पुलिस कैंप किए हुए थी।

 

तीन बदमाश धराए गए

 

कुरियर कंपनी के एक डिलीवरी कर्मी से एक लाख तीस हजार रुपये लूट के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस घटना में शामिल तीन बदमाशों को हथियार व लूट के चालीस हजार रुपये के साथ गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल की है। रविवार को पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने बताया कि इस मामले में तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। बदमाशों के पास से दो देसी पिस्तौल, तीन गोली, लूट की मोबाइल, लूट दो की बाइक और 40 हजार रुपये बरामद हुए हैं। बताया कि 13 जुलाई को उड़ान एक्सप्रेस के डिलीवरी कर्मी से सदर थाना क्षेत्र के बैजनपट्टी गेरूआहा पुल के पास से दो बाइक पर सवार चार बदमाशों से एक लाख 30 हजार रुपये की लूट की थी।

इस घटना को लेकर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी संतोष कुमार के नेतृत्व में सदर थानाध्यक्ष सह परीक्ष्यमान पुलिस उपाधीक्षक निशिकांत भारती, पुअनि मंगलेश कुमार मधुकर, अनुसंधानकर्ता सअनि मालेश्वर प्रसाद यादव की टीम गठित कर दी गयी थी। गठित टीम ने ही सूचना के आधार पर तकनीकी सहयोग से बदमाशेां की गिरफ्तारी हेतु छापामारी की। छापामारी के क्रम में ही अपराधियों के पास से लूटी गयी बाइक, पिस्तौल सहित अन्य सामान बरामद किया गया। गिरफ्तार बदमाशों में जिले के सिमरीबख्तियारपुर के सकड़ा पहाड़पुर के रामचंद्र यादव का पुत्र अमित कुमार यादव, शहर के नरियार वार्ड नंबर दस निवासी सुरेश दास का पुत्र अजय कुमार एवं नरियार वार्ड नंबर चार निवासी मो. अब्बास का पुत्र शोहेब शामिल है।

 

गिरफ्तार बदमाशों का है आपराधिक इतिहास

 

एसपी लिपि सिंह ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों पर पूर्व से ही कई मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं। दर्ज मामलों को लेकर ही पुलिस इन बदमाशों को पहले से ही खोज रही थी। गिरफ्तार अमित कुमार यादव पर सहरसा सदर थाना सहित बिहरा, बनगांव थाना क्षेत्र में करीब एक दर्जन मामले दर्ज हैं। इसमें हत्या, लूट सहित अन्य मामले दर्ज हैं। गिरफ्तार अपराधी अजय एवं शौहेब पर भी कई आपराधिक मामला दर्ज हैं।