पटना के दीघा घाट में चिराग पासवान ने की पिता की कर्म क्रिया

रामविलास पासवान के कर्म क्रिया को पटना के दीघा घात में उनके बेटे चिराग पासवान ने भारतीय परंपरा के अनुसार पूर्ण किया इसके पूर्व उन्होंने 17 अक्टूबर को घाट पर पिंड दान भी किया था इस बात की जानकारी उन्होंने ट्वीट करते हुए दी। चिराग पासवान ने ट्वीट करते हुए बताया कि भारतीय परम्परा अनुसार पिता का पिंडदान किया।

केंद्रीय मंत्री रामविलास का पासवान का  8अक्टूबर को दिल्ली में निधन हो गया था। उनके बेटे चिराग पासवान ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी थी। एलजेपी के 74 वर्षीय संरक्षक पासवान का कुछ दिन पहले दिल्ली के एक अस्पताल में हार्ट का ऑपरेशन हुआ था।

लोजपा के संस्थापक स्वर्गीय रामविलास पासवान के श्राद्धकर्म के दिन 20 अक्टूबर को पटना में देशभर से नेता और अन्य लोग आएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सभी मंत्रियों और सांसदों को न्योता भेजा जा रहा है। दलित सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वर्गीय पासवान के छोटे भाई और सांसद पशुपति कुमार पारस ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि 19 अक्टूबर को हमारे गांव खगड़िया के शहरबिन्नी में ब्रह्मभोज होगा, जिसमें हजारों लोग जुटेंगे। स्वर्गीय पासवान के पुत्र चिराग पासवान समेत पूरा परिवार 19 को गांव जाएगा और वहां के फुलतौरा घाट पर स्व पासवान की अस्थियां विसर्जित की जाएगी। शोकसभा में सांसद पशुपति पारस भावुक हो गए। कहा कि हम तीनों भाइयों के बीच राम, लक्ष्मण और भरत जैसा प्यार था। उनका हृदय विशाल था। छोटा कार्यकर्ता हो या कोई कर्मचारी सभी के नाम के आगे जी लगाकर ही वे सबको पुकारा करते थे। कहा कि स्व पासवान सभी जाति-समुदाय के गरीब-गुरबों की लड़ाई जीवनभर लड़ते रहे।

Leave a Reply