दरभंगा में AIIMS खोलने को केंद्रीय कैबिनेट की मंजूरी, सालों से थी मांग

 

बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले वोटर्स को साधने के लिए लगातार नए-नए विकास कार्यों का उद्घाटन और शिलान्यास किया जा रहा है. अब एक कदम और बढ़ाते हुए केंद्रीय कैबिनेट ने दरभंगा में एम्स खोलने को मंजूरी दी है. इसकी मांग सालों से की जा रही थी. एम्स 1264 करोड़ रुपए की लागत से चार साल के अंदर बनकर तैयार होगा.

उत्तर बिहार की जनता को मिलेगा काफी लाभ

बता दें कि बिहार का दूसरा एम्स दरभंगा में बनने से उत्तर बिहार की जनता को काफी लाभ मिलेगा. प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट के अनुसार दरभंगा एम्स 750 बेड का होगा.

मालूम हो कि कुछ दिन पहले ही दरभंगा के लिए एक और अच्छी खबर आई है. दरअसल, छठ से पहले दरभंगा से फ्लाइट सर्विस शुरू होने जा रही है. नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इसकी घोषणा की है. उन्होंने यहां एयरपोर्ट का दौरा किया और फिर बिहार सरकार और उड्डयन विभाग के अफसरों के साथ बैठक की. मीटिंग के बाद पुरी ने बताया कि पीएम नरेन्द्र मोदी का ये सपना था कि मिथिलाचंल से विमान सेवा शुरू हो. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण थोड़ी देरी हो गई.

बिहार का तीसरा एयरपोर्ट होगा दरभंगा

पटना और गया के बाद दरभंगा बिहार का तीसरा एयरपोर्ट बन जाएगा. नीतीश कुमार ने दरभंगा में नये टर्मिनल की नींव 24 दिसंबर 2018 को रखी थी. राज्य सरकार ने जमीन अधिग्रहण के लिए 121 करोड़ रूपये दिए. नए टर्मिनल को बनाने में 92 करोड़ रूपये लगे. यहां 6 चेक इन कांउटर बनाये जायेंगे. एक समय में 200 यात्रियों के लिए उतरने और जाने का इंतजाम किया गया है.

Leave a Reply