• Sat. May 21st, 2022

बक्सर: पत्नी को दारोगा बनाने का ख्वाब रह गया अधूरा, दारोगा परीक्षा देने को जाने कर्म में एक्सीडेंट

ByRajkumar Raju

Dec 26, 2021

बक्सर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कम्हरिया गांव पास पत्नी को दारोगा की परीक्षा दिलाने ले जा रहे पति की सड़क हादसे में मौत हो गई। वहीं, पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गई है। महिला की हालत गम्भीर होने के कारण बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया। इधर, सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम करा शव को परिजनों को सौंप दिया गया। वहीं, अज्ञात वाहन के खिलाफ FIR दर्ज कर आगे की करवाई की जा रही है।

घटना रविवार सुबह की है। महिला भभुआ कारा में जेल पुलिस में कार्यरत है। जिसने दारोगा परीक्षा के लिए फॉर्म भरा था। रविवार सुबह उसकी परीक्षा थी, जिसको ले पति ससुराल से पत्नी को बाइक पर बैठा बक्सर मुख्यालय ले जा रहा था। वहीं, आज अचानक सुबह से ही घना कोहरे के कारण सड़क पर सुबह 9 बजे तक वाहन रेंग रहीं थी।

इसी दौरान UP के गाजीपुर जिले के नोनहरा थाना स्थित जल्लापुर गांव निवासी रमेश चौधरी का 33 वर्षीय पुत्र विनोद कुमार चौधरी अपनी अपाचे बाइक से पत्नी पूजा देवी (25 वर्षीय) को दारोगा की परीक्षा दिलाने के लिए बक्सर MV कॉलेज ले जा रहा था। तभी आज घना धुंध के कारण सामने से तेज रफ्तार में आ रही स्कार्पियो दिखाई नहीं दी। जिससे स्कार्पियो व बाइक में जोरदार टक्कर हो गया। जिससे दोनों पति पत्नी सड़क पर गिर छटपटाने लगे।

टक्कर की आवाज सुन आसपास के लोग दौड़े आए और दोनों को निजी वाहन से सदर अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉ. ने विनोद चौधरी को मृत घोषित कर दिया। वहीं, पूजा की स्थिति नाजुक होने के कारण रेफर कर दिया गया। जिसे परिजन वाराणसी लेकर चले गए।

पति सिपाही पत्नी को दरोगा बनना चाहता था

पूजा कुमारी बक्सर जिले के राजपुर थाना स्थित जलीलपुर निवासी रामचन्द्र की पुत्री है। जिसकी 2015 में UP के जल्लापुर निवासी विनोद चौधरी के साथ धूमधाम से रीति रिवाज के साथ सम्पन्न हुआ। शादी के बाद दो सुंदर बेटियों ने भी जन्म लिया है। पूर्वी साहनी 2 वर्ष, सिमरन साहनी 5 वर्ष की है। वहीं, पूजा शादी के बाद 2017 में जेल पुलिस में भर्ती हो गई। जो फिलहाल बिहार के कैमूर जिला के भभुआ जेल पुलिस में तैनात थी।

लेकिन पूजा पढ़ने में तेज थी। इसलिए पति उसे दरोगा की तैयारी करा रहा था। जिसके लिए पति घर पर रहकर बच्चियों की देख भाल के साथ घर के काम मे भी हाथ बाटाता था।लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था। दरोगा परीक्षा के पहले ही पति पत्नी की एक्सीडेंट हो गई। जिसमें पति की मौत तो पुलिस पत्नी की हालत अभी भी नाजुक बताया जा रहा है।

मुफस्सिल थानाध्यक्ष अमित कुमार द्वारा बताया गया कि सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के बाद युवक की शव को परिजनों को सौंप दिया गया।वही अज्ञात वाहन के खिलाफ FIR दर्ज कर आगे की करवाई की जा रही है।वहीं महिला को उसके मायके वाले बेहतर इलाज के लिए वाराणसी लेकर चले गये।