कंगना रनौत को घेरने की तैयारी में BMC: हाउसिंग सोसाइटी को जारी किया नोटिस

 

मुंबई स्थित कंगना रनौत के दफ्तर में तोड़फोड़ करने के बाद बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) ने मंगलवार को चेतक सोसाइटी को एक नोटिस जारी किया है। चेतक सोसायटी एक सहकारी समिति है, जहां पर कंगना का मणिकर्णिका दफ्तर स्थित है। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत को घेरने के लिए बीएमसी अब सोसायटी और उसके सदस्यों से विवरण मांगा है।

नोटिस में बीएमसी ने सोसायटी के ‘मुख्य सदस्यों’ का विवरण और सभी ‘सहयोगी साझेदारों’ की सूची मांगी है।

बीएमसी अपने नोटिस में सोसायटी में हुई पिछले 3 वर्षों में हुई बैठकों का विवरण, पिछले 3 वर्षों का अकाउंट विवरण और वर्तमान चुनाव प्रकिया के साथ सदस्यों की ट्रांसफर सूची, रेल हाउस और बंगलों के आवंटन का डिटेल और उसी के लिए एग्रीमेंट पेपर जैसे कई दस्तावेजों की जानकारी मांगी हैं।

बता दें कि चेतक सोसायटी महाराष्ट्र सहकारी समिति अधिनियम, 1960 और नियम, 1961 के तहत सरकारी आवासीय सहकारी समिति के अंतर्गत आता है।

कंगना ने BMC पर 2 करोड़ के मुआवजे का ठोका केस

कंगना रनौत ने बॉम्बे हाई कोर्ट में एक संशोधित याचिका दायर की है जिसमें उन्होंने BMC द्वारा उनके ऑफिस में किए गए नुकसान के लिए मुआवजे की मांग की है। ऑफिस में ‘अवैध तोड़फोड़’ के बाद कंगना रनौत ने बॉम्बे हाई कोर्ट में एक संशोधित याचिका दायर की है, जिसमें उन्होंने BMC द्वारा उनके ऑफिस में किए गए नुकसान के लिए मुआवजे की मांग की है। कंगना ने दफ्तर में हुए नुकसान के लिए BMC से 2 करोड़ रुपये की मांग की है। बांद्रा के पाली हिल में स्थित अभिनेत्री के मणिकर्णिका फिल्म्स ऑफिस में BMC ने 9 सितंबर को तोड़फोड़ की थी जब वह मनाली से मुंबई आ रही थीं।

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत मामले को लेकर शिवसेना पर हमला बोलने के बाद अभिनेत्री के ऑफिस को निशाना बनाया गया था। उनके ऑफिस पर पहले ‘अवैध निर्माण’ का आरोप लगाते हुए काम रोकने का नोटिस लगाया गया और फिर अगले दिन अचानक उनके ऑफिस में तोड़फोड़ शुरू कर दी गई। कंगना के वकील रिज़वान सिद्दीकी ने ‘अवैध तोड़फोड़’ का आरोप लगाते हुए बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी जिसके बाद BMC की कार्रवाई पर तत्काल रोक लगा दी।

Leave a Reply