• Sat. Jun 25th, 2022

बीजेपी ने बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर उठाया गंभीर सवाल, संजय जायसवाल बोलें-शिक्षा विभाग जदयू के पास है फिर भी..

BySumit Kumar

Jun 23, 2022

भारतीय सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्‍न‍िपथ स्‍कीम के विरोध में बिहार में हुए उग्र प्रदर्शन के बाद एनडीए में घमासान जारी है. बीजेपी ने एक बार फिर जदयू पर सवाल उठाया है. बीजेपी के प्रदेश अध्‍यक्ष संजय जायसवाल ने अग्निपथ योजना का फायदे गिनाकर जदयू पर निशाना साधा है. संजय जायसवाल ने शिक्षा विभाग पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्रालय जदयू के पास है. सेशन की देरी पर उनको ध्यान देना चाहिए. दरअसल इस समय बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी हैं. जो जदयू के सीनियर नेता हैं।

संजय जायसवाल ने शिक्षा विभाग पर सवाल उठाते हुए कहा कि 3 साल में ग्रेजुएशन पूरा होना चाहिए. उन्होंने स्नातक सत्र रेगुलर करने की मांग की है. शिक्षा मंत्रालय जदयू के पास है. सेशन की देरी पर उनको ध्यान देना चाहिए. वहीं अग्निपथ योजना पर जदयू के नेताओं ने केंद्र सरकार को विचार करने को कहा है. इस पर संजय जायसवाल ने कहा कि मुझे हंसी आ रही है कि जदयू के लोग इस पर सवाल उठा रहे हैं. उन्होंने कहा कि अग्निपथ पर जदयू की मांग बेतूका है. वहीं अग्निपथ योजना का फायदे गिनाकर बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष ने जदयू पर निशाना साधा है।

बता दें कि भारतीय सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्‍न‍िपथ स्‍कीम के विरोध में बिहार में हुए उग्र प्रदर्शन के बाद एनडीए में घमासान जारी है. बीजेपी और जदयू दोनों दलों के बयानबाजी से सियासी लपटें तेज हो रही है. अग्‍न‍िपथ स्‍कीम के विरोध में बिहार में हुए उग्र प्रदर्शन के बाद बीजेपी के प्रदेश अध्‍यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने पार्टी दफ्तरों और बीजेपी नेताओं के घर पर हो रहे हमले को लेकर सवाल उठाया था. अपनी ही सरकार के लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल उठाते हुए कहा था कि अगर पुलिस चाहती तो प्रदर्शनकारियों को रोका जा सकता था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया. जिसके जवाब में जेडीयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ललन सिंह ने कहा था कि संजय जायसवाल अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं, इसलिए वह ऐसा आरोप लगा रहे हैं. उसके बाद से बीजेपी और जदयू दोनों दलों के नेताओं के बीच बयानबाजी तेज है।