• Mon. Jun 21st, 2021

बंगाल में BJP को लग सकता है बड़ा झटका, मुकुल रॉय TMC में करेंगे वापसी

ByShailesh Kumar

Jun 11, 2021

पश्चिम बंगाल में बीजेपी को बड़ा झटका लग सकता है. पश्चिम बंगाल बीजेपी के नेता और सांसद मुकुल रॉय की टीएमसी में घर वापसी हो सकती है. मुकुल रॉय दोपहर 3.30 बजे ममता बनर्जी से मुलाकात करेंगे. बताया जा रहा है कि इस दौरान वह टीएमसी की सदस्या भी ले सकते हैं. टीएमसी के सांसद सौगत ने राय इसे लेकर एक तरह से बड़ा संकेत दिया है. सौगत रॉय ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि ‘ऐसे बहुत से लोग हैं, जो अभिषेक बनर्जी के संपर्क में हैं और वापस आना चाहते हैं. मुझे लगता है कि ऐसे लोगों ने पार्टी के साथ जरूरत के वक्त पर विश्वासघात किया था.

कभी ममता बनर्जी के करीबी रहे मुकुल रॉय पार्टी छोड़ने वाले पहले नेता थे. उन्होंने 2017 में दल बदल लिया था. रिपोर्ट के मुताबिक, इसके बाद के सालों में उन्होंने कई टीएमसी विधायकों और नेताओं को वफादारी बदलने पर राजी किया. खबर है कि करीब 35 नेता सत्ताधारी दल के साथ वापस आना चाहते हैं. विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को मिली बड़ी जीत के बाद कई पुराने सहयोगी टीएमसी में वापस आना चाहते हैं. इसमें मुकुल रॉय का नाम सबसे ऊपर था. मुकुल रॉय, बीजेपी में शुभेंदु अधिकारी के बढ़ते कद से बेचैन बताए जा रहे थे. यही वजह है कि वह अपनी पुरानी पार्टी में वापस लौटना चाहते हैं.

कभी टीएमसी में नंबर दो पर थे मुकुल रॉय

टीएमसी में मुकुल रॉय का कद कभी ममता बनर्जी के बाद दूसरे नंबर का हुआ करता था. उन्होंने टीएमसी छोड़ी तो बीजेपी का दामन थाम लिया, वे 1998 से ही बंगाल की राजनीति में हैं. मुकुल रॉय का नाम नारदा स्टिंग केस में भी आया था. मुकुल रॉय अपने करियर की शुरुआत में यूथ कांग्रेस में हुआ करते थे, उस दौर में ममता बनर्जी भी यूथ कांग्रेस में ही थीं. तभी से मुकुल और ममता के बीच राजनीतिक करीबियां बढ़ी थीं. अपने पिता के पीछे पीछे ही उनके बेटे सुभ्रांशु रॉय ने भी भाजपा का दामन थाम लिया था. बीजेपी ने सुभ्रांशु को टिकट भी दिया था, लेकिन वह चुनाव हार गए.

मुकुल रॉय की पत्नी का हालचाल लेने अस्पताल पहुंचे थे अभिषेक बनर्जी

हाल ही में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और टीएमसी के महासचिव अभिषेक बनर्जी अस्पताल में भर्ती मुकुल रॉय की पत्नी का हाल जानने पहुंचे थे. इसके बाद से ही उनकी टीएमसी में वापसी की अटकलें शुरू हो गई थीं. इसके बाद ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले गुरुवार को मुकुल रॉय को फोन करके उनकी बीमार पत्नी का हालचाल पूछा था. बीजेपी नेताओं के अनुसार रॉय की पत्नी के स्वास्थ्य का हालचाल लेने के लिए प्रधानमंत्री ने ये कॉल किया था. जबकि, टीएमसी नेताओं का मानना है कि यह बीजेपी की नेताओं को एक साथ रखने की कोशिश है.