बिहार बनेगा इथनॉल का हब, सरकार जल्द ही निवेशकों को जमीन उपलब्ध कराएगी: शाहनवाज

उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि बिहार इथनॉल का हब बनेगा। अब न केवल चीनी से बल्कि मक्का, चावल के टुकड़े से भी इथनॉल का उत्पादन होगा। कई प्रस्ताव आए हैं और सरकार जल्द ही निवेशकों को जमीन उपलब्ध कराएगी।

सोमवार को विधानसभा में विजय कुमार खेमका के तारांकित प्रश्न के जवाब में उद्योग मंत्री ने कहा कि यूपीए सरकार ने इथनॉल के लिए केवल चीनी मिलों को ही अनुमति दी थी। मोदी सरकार ने यह बाध्यता समाप्त कर दी। अब मक्का, चावल से इथनॉल उत्पादन का रास्ता साफ हो गया है। प्रश्नकर्ता के पूरक प्रश्न के जवाब में मंत्री ने कहा कि बियाडा की जमीन लेने के बाद उस जमीन के हस्तांतरण पर सरकार किश्तों में राशि ले रही थी।

लेकिन परेशानी होने पर उसे समाप्त कर दिया गया है। अजीत शर्मा के अल्पसूचित प्रश्न के जवाब में उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि राज्य के बुनकरों को सरकार 10-10 हजार अनुदान दे रही है। 712 बुनकरों के लिए 71 लाख 20 हजार का प्रावधान किया गया है। एक-दो दिनों में यह राशि बुनकरों के बैंक खाते में चली जाएगी।

राजेश कुमार सिंह के तारांकित प्रश्न के जवाब में गन्ना उद्योग मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा कि हथुआ शुगर फैक्ट्री 1997 से बंद है। सरकार ने बकाया किसानों के लिए पैसा दिया था। एक करोड़ 34 लाख राशि अब भी जमा है। जिन किसानों को पैसा नहीं मिला है, वे आवश्यक दस्तावेज के साथ डीएम ऑफिस में दावा करें तो उनको यह राशि दे दी जाएगी।

Leave a Reply