बेगूसराय: लापता बच्चे का शव मिला, अपहरण के बाद हत्या की आशंका

बिहार के बेगूसराय जिले में किउल वार्ड नं. 13 निवासी संजय सिंह के दो वर्षीय नाती दिव्यम का शव चार दिनों बाद  उनके घर से सटे दक्षिण पानी भरे गड्ढे से बरामद हुआ। मासूम का शव मिलते ही आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई। महापर्व छठ की खुशियां गम में तब्दील हो गईं। पूजा के मौसम में इस घटना से माहौल गमगीन हो गया।

बच्चे का शव मिलने की सूचना पाते ही आसपास के सैकड़ों लोग जुट गए। ग्रामीण एक दिन पहले नानी घर आए उक्त दुधमुहे बच्चे को अगवा कर उसकी हत्या किए जाने की आशंका जता रहे हैं। वह घर के सामने शाम में खेलने के दौरान रहस्यमय तरीके से गायब हो गया था। परिजनों ने बताया कि अपहरण की आशंका जताते हुए थाने में आवेदन दिया गया था। इसके बावजूद पुलिस संवेदनहीन बनी रही। चार दिन बाद किउल मोहल्ला स्थित नानी घर के पीछे गड्ढे में शव मिलने के बाद ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया।मृत बालक के चेहरे पर चोट के निशान व नाक से रिसते खून एवं मुँह पर सैलो टेप साटने के निशान देखकर लोग उसकी हत्या की आशंका जता रहे हैं। ओपी अध्यक्ष रंजन ठाकुर ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय भेजा दिया गया है।

इधर, दुधमुहे मासूम का अपहरण कर हत्या कर देने से आक्रोशित लोगों ने गुरुवार को शव के साथ ठकुरीचक मुख्य चौराहा को जाम कर दिया। पुलिस के रवैये पर नाराजगी जताते हुए लोगों ने सड़क पर आगजनी कर आवगमन ठप कर दिया। पोस्टमार्टम के बाद परिजन शव को लेकर चौराहा पर बैठ गए। हत्यारों की अविलंब गिरफ्तारी और पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग करते हुए लोग सड़क पर डटे रहे। बाद में एसपी ने पीड़ित परिजन से मोबाइल पर बात कर आश्वासन दिया कि  72 घण्टे के अंदर अपराधी को दबोच लिया जाएगा। इसके बाद करीब डेढ़ घण्टे पश्चात सड़क से जाम हटाया गया।

 

Leave a Reply