भागलपुर नगर निगम में 30 अप्रैल तक आम जनता के प्रवेश पर रोक

भागलपुर नगर निगम कार्यालय में कोरोना संक्रमण से बचाव और भीड़ कम करने को लेकर आम आदमी के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। मुख्य सचिव व गृह विभाग के पुलिस महानिदेशक ने संयुक्त आदेश जारी कर नगर निगम प्रशासन की 30 अप्रैल तक रोक लगाने को कहा है। शहर में बढ़ते कारोना संक्रमण के बावजूद निगम कार्यालय में काफी भीड़ जुट रही थी। इसे रोकने के लिए बुधवार को प्रवेश द्वार को बंद दिया गया है। यहां पूर्व सैनिक का पहरा लगा दिया गया है। प्रशासन के इस सख्त कदम से लोगों की परेशानी बढ़ गई है।

निगम में जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, नक्शा व ट्रेंड लाइसेंस के लिए अब लागों को समस्या उत्पन्न हो गई है। लोगों की सुविधा के लिए वैकल्पिक व्यवस्था तक नहीं की गई है। इससे प्रवेश द्वार पर अफरा-तफरी की स्थिति बनी रही। निगम में आवेदन जमा करने वाले लोगों को निराश लौटना पढ़ा। इस दौरान कुछ लागों से सुरक्षा गार्ड की कहासुनी हो गई है।

कार्यालय अधीक्षक ने कहा नहीं होगी परेशानी :

कार्यालय अधीक्षक रेहान अहमद ने बताया कि जनिहत के कार्य अवरुद्ध नहीं होंगे। आवश्यक सेवा बाधित नहीं की गई है। प्रवश द्वार पर पानी व सफाई संब्रंधित शिकायतों से संबंधित आवेदन प्रवेश द्वार पर ही लिया जाएगा। प्राथमिकता के आधार आवंदन का निष्पादन किया जाएगा। नक्शा, म्यूटेशन, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र व ट्रेड लाइसेंस आदि जैसे कार्य में 10 दिनों का समय लग सकता है। उसका आवेदन जमा लिया जाएगा। इसके बाद उनका जब्र प्रमाण पत्र बन जाएगा तो उनके नामों की सूची प्रकाशित की जाएगी। प्रमाण पत्र वितरण के लिए एक कर्मी को प्रतिनियुक्त किया जाएगा।

Leave a Reply