• Mon. Jun 27th, 2022

नवीन पटनायक के बाद द्रौपदी मुर्मू के समर्थन में आए जगन मोहन रेड्डी, जानें NDA चुनाव से पहले कैसे हए मगन

ByShailesh Kumar

Jun 24, 2022

वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी ने गुरुवार को एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने का ऐलान किया। वाईएसआरसीपी का यह समर्थन इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि उसके पास 4 फीसदी वोट शेयर है। ओडिशा की बीजू जनता दल पहले ही मुर्मू के समर्थन की घोषणा कर चुकी है।

एक बयान में, पार्टी ने कहा कि जगन का मानना ​​है कि मुर्मू का समर्थन करना एससी, एसटी, बीसी और अल्पसंख्यक समुदायों के प्रतिनिधित्व पर हमेशा जोर देने की उनकी विचारधारा के अनुरूप है। इसमें कहा गया है कि पिछले तीन वर्षों में मुख्यमंत्री ने इन समुदायों के उत्थान को बहुत महत्व दिया है और यह भी सुनिश्चित किया है कि कैबिनेट में उनका प्रतिनिधित्व अच्छी तरह से हो।

शुक्रवार को नामांदन दाखिल करेंगी मुर्मू

मुर्मू को मंगलवार को एनडीए का राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया गया था। वह शुक्रवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगी। वाईएसआरसीपी ने कहा कि मुख्यमंत्री एक निर्धारित कैबिनेट बैठक के कारण मुर्मू द्वारा नामांकन दाखिल करने में शामिल नहीं हो पाएंगे। हालांकि, राज्यसभा सांसद विजयसाई रेड्डी और लोकसभा सांसद मिधुन रेड्डी मौजूद रहेंगे। मुर्मू मूल रूप से ओड़िशा के मयूरभंज जिले की हैं और वह आदिवासी समुदाय संताल (संथाल) से ताल्लुक रखती हैं। झारखंड के राज्यपाल के रूप में उनका कार्यकाल भी निर्विवाद रहा है जबकि संयुक्त विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का भी झारखंड से गहरा नाता रहा है।

पीएम मोदी, गृह मंत्री शाह से मिलीं मुर्मू

राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू बृहस्पतिवार को अपने गृह राज्य ओडिशा से दिल्ली पहुंचीं और शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल करने से पहले उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे पी नड्डा से भेंट की।