• Wed. Oct 20th, 2021

भागलपुर, जमुई और मुंगेर की गंगा का एरियल व्यू, आसमान से ऐसे दिखता है गंगा का नजारा

ByRajkumar Raju

Sep 26, 2021

गंगा! ये नाम केवल एक नदी मात्र का नहीं है। इस नाम के साथ हमारी सभ्‍यता और संस्‍कृति की पहचान भी जुड़ी है। तभी तो ये दुनिया की सबसे पवित्र नदी मानी जाती है। लेकिन इन सब के इतर यह हम सबों के लिए पर्यटक स्‍थल का निर्माण भी करती है। बिहार में ऐसे ही स्थलों की एक बानगी देखने को मिली, जब आसमान से मां गंगा के बेहतरीन एरियल व्यू की तस्वीरें सामने आईं।

गंगा किनारे बसे शहरों में शायद ही कोई इस पल से दूर रहा होगा,  जिसका बचपन गंगा की लहरों को निहारते न बिना बिता हो। आज भी अगर किसी को घूमने जाना होता है या शांत जगह की तलाश होती है तो वे गंगा किनारे पहुंच जाते हैं। इसके कई कारण हैं। jagran

वैसे तो आपने गंगा की लहरों को हजारों बार नजदीक से देखा होगा। पास से यह जितनी मनमोहक दिखती है उससे भी कही ज्‍यादा लाजवाब इसका एरियल व्‍यू है। बिहार के कैबिनेट विभाग सह शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने गंगा का एरियल व्‍यू जारी किया है। उन्‍होंने इसे अपने टवीटर पर पोस्‍ट किया है।

एरियल व्‍यू में भागलपुर और मुंगेर में गंगा का खुबसूरत नजारा दिखाई दिया। साथ ही जमुई के मैदानी भाग के एरियल व्‍यू को भी उन्‍होंने शेयर किया है। जिसमें घने जंगल और उसके बीच से होकर गुजरती सड़क आदि दिख रही हैं। इसमें झील और धुंध की चादर भी नजर आ रही है। देखें..

बढ़ रहा डाल्फि‍न की संख्‍या 

दुनिया का पहला डाल्‍फि‍न सेंचुरी बिहार के भागलपुर में है। यह कहलगांव से सुल्‍तानगंज तक फैला हुआ है। हाल के दिनों में इस सेंचुरी में डाल्‍फि‍न की संख्‍या लगातार बढ़ रही है। यही कारण है कि बरसात के मौसम में भागलपुर में घाट किनारे आप इसका आसानी से दीदार कर सकते हैं।

jagran

घट रहा गंगा का प्रदूषण 

इसके अलावा गंगा का प्रदूषण भी कम हो रहा है। नमामी गंगे प्रोजेक्‍ट के तहत शहर के नाले के पानी को सीवरेज प्‍लान में ट्रिटमेंट के बाद ही गंगा में प्रवाहित किया जाएगा, इसपर भी तेजी से काम हो रहा है। साथ ही लोग भी गंगा में पालिथिन आदि नहीं फेंक रहे हैं।

jagran

जमुई की हरियाली शानदार वातावरण

बिहार में पर्यटन की आपार संभावनाएं हैं। बिहार सरकार इस दिशा में तेजी के साथ कदम बढ़ा रही है। हाल ही में मंदार रोप-वे का उद्घाटन कर एक कदम इस दिशा में बढ़ाया गया। ऐसे ही और भी प्रयास किए जा रहे हैं। कैसी लगीं तस्वीरें, फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम में इस आर्टिकल को शेयर कर हमें जरूर बताएं।