24 साल बाद ओडिशा को मिला नया सीएम, मोहन माझी बनेंगे मुख्यमंत्री, दो डिप्टी सीएम भी होंगे

BJPNationalOdisha

बीजेपी ने मोहन माझी को ओडिशा का सीएम बनाने के साथ प्रवति परीडा और केवी सिंह देव को डिप्टी सीएम बनाया है. ओडिशा में भी बीजेपी ने एक सीएम दो डिप्टी सीएम का फॉर्मुला लगाया है.

केंद्र में सत्ता गठन के बाद ओडिशा में भी भारतीय जनता पार्टी ने सरकार बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. बीजेपी ने ओडिशा में मोहन माझी को नए मुख्यमंत्री के तौर पर चुना है. ओडिशा में भी बीजेपी ने एक सीएम और दो डिप्टी सीएम का फॉर्मूला लगाया है. ओडिशा के दो डिप्टी सीएम होंगे, जिनमें से एक महिला हैं. प्रवति परीडा और केवी सिंह देव राज्य के डिप्टी सीएम होंगे.

ओडिशा में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने बहुमत का जादूई आंकड़ा हासिल करते हुए नवीन पटनायक के बीजू जनता दल को सत्ता से बेदखल किया है. नवीन पटनायक साल 2000 से लगातार 2024 तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे. वो इस पद पर 24 साल और 98 दिन तक रहे. हाल ही में हुए चुनावों में सफलता मिलने के बाद बीजेपी ने अब मोहन माझी को मुख्यमंत्री चुना है. इसी के साथ राज्य को लगभग ढाई दशक बाद नया मुख्यमंत्री मिला है.

मोहन माझी आदिवासी समाज से आते हैं और बीजेपी ने उन्हें मुख्यमंत्री बनाते हुए इस समाज में अपनी पकड़ मजबूत करने की ओर भी कदम उठाया है. माझी ओडिशा की क्योंझर सीट से विधानसभा चुनाव जीते हैं और ये सीट अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आरक्षित सीट है. उन्होंने इस सीट से बीजू जनता दल के नीना माझी को 11 हजार 577 वोट से मात दी थी. 52 वर्षीय माझी चार बार विधानसभा चुनाव जीत चुके हैं.

प्रवति परीडा और केवी सिंह देव बनेंगे डिप्टी सीएम

वहीं राज्य की नई डिप्टी सीएम प्रवति परीडा निमापारा से विधानसभा चुनाव जीती हैं. उन्होंने बीजेडी के दिलिप कुमार नायक को 4588 वोट से मात दी थी. ओडिशा के दूसरे डिप्टी सीएम बनने जा रहे कनक वर्धन सिंह देव पटनगढ़ से विधायक हैं और उन्होंने एक करीबी मुकाबले में बीजेडी के सरोज कुमार मेहर को 1357 वोट से मात दी थी.

जानें विधानसभा में किस पार्टी के पास हैं कितनी सीट

ओडिशा में हाल ही में लोकसभा के साथ-साथ विधानसभा के भी चुनाव हुए थे. 147 विधानसभा सीटों वाले इस राज्य में बीजेपी ने बहुमत का जादूई आंकड़ा पार करते हुए 78 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं ढाई दशक से सत्ता में काबिज बीजू जनता दल महज 51 सीटों पर सिमट कर रह गई. कांग्रेस को 14 और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया- मार्कस्वादी को एक सीट मिली. ओडिशा में इसबार तीन उम्मीदवार निर्दलीय भी चुनाव जीते थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।