भागलपुर में 20 करोड़ में बनने जा रही है बाइपास सड़क, जाम की समस्या हो जाएगी खत्म

Bhagalpur

गौराडीह से सिकंदरपुर (गुड़हट्टा चौक) तक वैकल्पिक बाइपास का निर्माण होगा। 16 किलोमीटर लंबी और 10 मीटर चौड़ी सड़क के निर्माण में 20 करोड़ रुपये खर्च होंगे। दोहरीकरण होने से शहरी क्षेत्र के साथ-साथ 12 दर्जन गांवों की दो लाख की आबादी लाभान्वित होगी।

इलाके के लोगों को जाम से भी मुक्ति मिल जाएगी। निर्माण कार्य शुरू होने से पूर्व सड़क के दोनों किनारों से अतिक्रमण हटाया जाएगा। जलजमाव की समस्या के निदान के लिए ड्रेनेज का भी निर्माण होगा।

पथ निर्माण निगम ने सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय को इसका प्रस्ताव भेज दिया है। स्वीकृति मिलते ही डीपीआर बनाकर एजेंसी बहाली के लिए टेंडर की प्रक्रिया अपनाई जाएगी।

यह वैकल्पिक बाइपास भागलपुर-अगरपुर-कोतवाली पथ एवं जगदीशपुर सन्हौला पथ का हिस्सा है। इन पथों के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण के लिए प्रस्तावित वार्षिक कार्य योजना वर्ष 2021-22, 2022-23 एवं 2023-24 में सम्मलित करने के लिए प्रस्ताव भेजा गया है।

अभी है सिंगल सड़क

वर्तमान में यह सड़क सिंगल यानी 10 फीट चौड़ी है। कम चौड़ी रहने से अक्सर जाम लगता है। जिस हिसाब से ट्रैफिक बढ़ा है, उससे लोगों की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। इस मार्गसे प्रतिदिन 10 से 12 हजार गाड़ियां चलती हैं। सड़क के दोहरीकरण से इस समस्या का काफी हदतक समाधान हो जाएगा।

यह वैकल्पिक बाइपास भागलपुर-अगरपुर-कोतवाली पथ एवं जगदीशपुर सन्हौला पथ का हिस्सा है। इन पथों के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण के लिए प्रस्तावित वार्षिक कार्य योजना वर्ष 2021-22, 2022-23 एवं 2023-24 में सम्मलित करने के लिए प्रस्ताव भेजा गया है।

 

अभी है सिंगल सड़क

वर्तमान में यह सड़क सिंगल यानी 10 फीट चौड़ी है। कम चौड़ी रहने से अक्सर जाम लगता है। जिस हिसाब से ट्रैफिक बढ़ा है, उससे लोगों की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। इस मार्गसे प्रतिदिन 10 से 12 हजार गाड़ियां चलती हैं। सड़क के दोहरीकरण से इस समस्या का काफी हदतक समाधान हो जाएगा।

सड़क को अतिक्रमित कर कर रहे बागवानी

मिरजानहाट शीतला स्थान चौक के पास गौराडीह की ओर जाने वाली सड़क को अतिक्रमण कर लोग बागवानी कर रहे हैं। कुछ लोगों ने सड़क पर पार्किंग स्टैंड तो कुछ ने सरकारी जमीन का अतिक्रमण कर घर व दुकानें बना ली हैं। यही स्थिति मिरजानहाट शीतला स्थान चौक से सिकंदरपुर तक जाने वाली सड़क की भी है।

 

लोगों ने सड़क का अतिक्रमण कर मकान व दुकानें बना ली हैं। चौक के पास नाला उड़ाही नहीं होने से सड़क को नुकसान पहुंच रहा है। धीरे-धीरे सड़क कटता जा रहा है। चार से पांच फीट तक सड़क नाला में समा चुकी है। इधर, सड़क दोहरीकरण से आवागमन में सुविधा होगी।

सड़क बनने से इन इलाकों के लोगों को होगी सहूलियत

सड़क बनने से शहरी क्षेत्र के शीतला स्थान चौक, कैलाशपुरी, बासुकीनाथ कालोनी, शिवपुरी कालोनी, सरमसपुर, जमसी, माछीपुर, गरहोतिया, गोराडीह, बिरनौध, कोतवाली, धनकुंड के अलावा सन्हौला जाने वाली सड़क के करीब दो लाख लोगों को सहूलियत होगी।

प्रस्ताव भेजा गया है। जल्द ही योजना को मंजूरी मिलने की उम्मीद है। अतिक्रमण हटाने के लिए जिला प्रशासन से सहयोग लिया जाएगा। नाला दुरुस्त करने के लिए कई बार नगर निगम से कहा गया है।-सुरुचि सिन्हा, सहायक अभियंता, आरसीडी

Kumar Aditya

Anything which intefares with my social life is no. More than ten years experience in web news blogging.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।