भागलपुर के मायागंज अस्पताल में कोरोना टेस्टिंग बंद

एक लैब टेक्निशियन की शरारतपूर्ण कारनामेसे न केवल मायागंज अस्पताल में कोरोना का सैंपल लेने की प्रक्रिया को ठप कर दिया बल्कि कोरोना लैब में कोरोना जांच की रफ्तार को पूरी तरह से थाम दिया । आलम यह है कि दो दिन के अंदर कोरोनालैब में करीब सवा सौ कोरोना सैंपल की जांच लंबित है तो पटना में करीब 150 लोगों का सैंपल । जांच का काम ऐसी स्थिति में बंद हुआ है जब पांच दिन में जिले में कोरोना के 104 नये मामले पाये जा चुके हैं । मशीनों को दुरूस्त करने में लगे इंजीनियरः कोरोना लैब में खराब पड़ी तीन सीबी नॉट मशीन व एक टू नॉट मशीन को कंपनी के इंजीनियरों ने सोमवार को ठीक करने का प्रयास जारी रखा । कोरोना लैब में जांच शुरू होने को लेकर कोई भी अधिकारी स्पष्ट रूप से बोलने को तैयार नहीं है । हालांकि अधीक्षक डॉ . आरसी मंडल ने बताया कि वे माइक्रोबॉयोलॉजी विभाग के अध्यक्ष डॉ . अमित कुमार से बात करने के बाद ही कोरोना लैब में जांच शुरू होने की तारीख के बारे में बताया जा सकता है । चिकन पार्टी में लिखी गयी कोरोना जांचमशीनकोखराबकरनेकीपटकथाः स्वास्थ्य सूत्रों की माने तो शनिवार को मायागंज अस्पताल के माइक्रोबॉयोलॉजी विभाग के एक डॉक्टर ने एक चिकन पार्टी का आयोजन किया था । इस पार्टी में कोरोना लैबकेटेक्निशियन , कर्मचारी , माइक्रोबॉयोलॉजिस्ट्स शामिल हुए थे । बताया जाता है कि इस पार्टी में सदर अस्पताल का एक टेक्निशियन भी शामिल हुआ था । स्वास्थ्य सूत्रों की माने तो सदर अस्पताल केटेक्निशियन ने सीबी नॉट मशीन व टू नॉट मशीन को खराब करने वाले लैब टेक्निशियन को कुछ पिला दिया था । इसके बाद ही टू नॉट व सीबी नॉट मशीन को खराब करने की पटकथा लिखी गयी ।

लैब टेक्निशियन के खिलाफ शोकॉज
मायागंज के अधीक्षक ने बताया कि कोरोना लैब में शनिवार की रात में लैब में रखे तीन सीबी नॉट मशीन व एक टू नॉट मशीन को खराब कर दिया था । उसके खिलाफ शनिवार को बरारी थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया गया तो सोमवार को उसके खिलाफ शोकॉज जारी कर दिया गया । उसे 24 घंटे में जबाब देने का आदेश दिया गया है । उसके जबाब के आधार पर उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी ।

Leave a Reply