बेटे ने प्रेम प्रसंग में शादी की तो मां को दी सजा, अर्द्धनग्न किया; महादलित से जबरन कराई शादी

 

घनश्यामपुर थाने के आधारपुर गांव में दीपावली के दिन एक बहुत बड़ी अमानवीय, जघन्य व बर्बरता वाली घटना हुई। बेटे ने प्रेम प्रसंग में लड़की को भगा ले गया और शादी कर फोटो वायरल कर दिया। तो इससे आक्रोशित लड़की वालों ने लड़के की मां के साथ अमानवीय व्यवहार किया।

उसके घर में घुसकर तोड़फोड़ की। एसबेस्टस के बने मकान को गिरा कर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया। घर में लूटपाट की। महिला के साथ मारपीट ही नहीं उसे अर्द्धनग्न कर दिया गया। उसका बाल काट दिया गया।

इतना ही नहीं एक महादलित के हाथों से महिला की मांग में सिंदूर भरवा दिया एवं माला पहनवा दी गई। डर के मारे उनके पति उमेश झा भाग गए। हमलावरों ने बीच बचाव को आए उनकी सास, गोतनी की पतोहू सहित तीन महिला एवं पीड़ित महिला के दो बेटे सहित युवकों के साथ भी मारपीट की।

इस घटना से गांव में तनाव व्याप्त है। लड़की पक्ष के करतूतों से लोगों में आक्रोश है। इस संबंध में बिरौल एसडीपीओ दिलीप कुमार झा ने बताया कि दोनों मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। घायल महिला एवं उनकी सासा को इलाज के लिए डीएमसीएच में भर्ती करवाया गया है।

 

लड़के ने शादी का फोटो डाला, तो लड़कीवालों ने किया घर पर हमला

मिली जानकारी के मुताबिक इस गांव के उमेश झा के बेटे सोनू झा का पड़ोस के अरुण झा की बेटी बिंदिया कुमारी के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। लड़की के माता-पिता दिल्ली में रहते हैं। लड़की अपनी चाची के साथ रहती थी।

12 नवंबर को लड़की इंटरमीडिएट की सेंट अप परीक्षा देने के लिए घर से कोर्थु के लिए निकली, लेकिन शाम तक घर नहीं लौटी। परिजनों ने अपने सभी रिश्तेदारों के यहां उसकी खोजबीन की। पता नहीं लगने पर लड़की की चाची ने घनश्यामपुर थाने में अपहरण का मामला दर्ज करवाया। इसमें 7 लोगों को नामजद किया गया।

लड़के ने शनिवार को दिन के 11 बजे लड़की के साथ की गई शादी की तस्वीर वायरल कर दी। इससे आक्रोशित लड़की के परिवार वालों ने लड़के के घर पर हमला बोल दिया। लड़के के पिता के मुताबिक एसबेस्टस के बने उसके मकान को गिरा दिया गया। घर में लूटपाट की गई। सभी सामान सहित 51 हजार रुपए लूट लिए गए।

पीड़िता बोली- बाल पकड़ कर घसीटते हुए ले गए हमलावर

डीएमसीएच में इलाजरत पीड़ित महिला अंजू देवी ने कहा कि उनका बेटा सोनू पापा के साथ मुंबई में रहता था। लॉकडाउन में घर आया था। उन्हें पता नहीं था कि उनके बेटे से पड़ोसी की बिंदिया से लव अफेयर था। 12 नवंबर को उनका बेटा गायब हो गया। दीपावली के दिन 11 बजे दर्जनों की संख्या में लड़की पक्ष उनके घर में घुस गए।

बोले- तुम बताओ तुम्हारे बेटे ने मेरी बेटी को कहां छिपा कर रखा है। फिर हमलावारों ने घर में तोड़फोड़ व लूटपाट शुरू कर दी। उनके दो बेटे सहित तीन युवकों व तीन महिलाओं के साथ मारपीट की। हमलावरों ने उनको बाल पकड़ कर घसीटते हुए अपने घर ले गए और घटना को अंजाम दिया। पहले उनका बाल काटकर छोटा कर दिया गया।

मुझसे जबरन सिंदूर डलवाया गया : महादलित

शादीशुदा महिला की मांग पर जबरन सिंदूर डालने वाला शख्स बिंदेश्वर राम ने बताया कि ललनजी व मास्टर साहब ने उनसे जबर्दस्ती महिला की मांग में सिंदूर डलवाया और माला पहनवाया। इन दोनों ने कहा कि ऐसा नहीं करोगे तो तुम्हें भी गांव से निकाल देंगे।

सूचना नहीं: आईजी

आईजी अजिताभ कुमार ने बताया कि उन्हें इस घटना की जानकारी नहीं है। थाना से इसकी जानकारी लेकर आगे की कार्रवाई का निर्देश देंगे।

 

Leave a Reply