बिहार को मिला पहला ISBT, CM नीतीश ने किया उद्घाटन, इन सुविधाओं से है लैस

बिहार काे आज पहला अंतरराज्यीय बस अड्डा (ISBT) मिल गया। करीब 25 एकड़ में फैले इस पांच मंजिले बस स्टैंड का उद्घाटन शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने किया। इस आइएसबीटी का निर्माण कार्य वर्ष 2016 के 24 दिसंबर को आरंभ हुआ था। इस दौरान सुशील मोदी, विजय कुमार चौधरी भी मौजूद रहे। इस इस बस स्‍टैंड में चार अलग अलग ब्लॉक हैं। यहां स्‍टैंड में शॉपिंग कॉम्‍प्‍लेक्‍स व मॉल से लेकर सिनेमा घर, यात्रियों के ठहरने और आराम करने के लिए अत्याधुनिक वेटिंग रूम तथा स्नानागार आदि भी बनाए गए हैं।

 

इतना बड़ा बस टर्मिनल शायद ही कहीं और मिलेगा

 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इतना बड़ा बस टर्मिनल शायद ही कहीं और मिलेगा। इस बस टर्मिनल में सारी सुविधाओं और सुरक्षा का ध्यान रखा गया है। कहा, आज ही इस बस टर्मिनल का नाम बदलकर पाटलिपुत्र बस टर्मिनल कर दिया गया है।

 

 

साल 2017-18 में सरकार ने दी थी योजना को मंजूरी

 

साल 2017-18 में मौजा पहाड़ी में अंतरराज्‍यीय बस टर्मिनल (आइएसबीटी) योजना को सरकार ने स्वीकृति प्रदान की थी। इस योजना की लागत 339.22 करोड़ है। अब यह बनकर तैयार है, जिसका मुख्‍यमंत्री ने उद्घाटन किया।

 

अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर का बनाया गया है बस स्‍टैंड

 

इस बस स्‍टैंड को अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर का बनाया गया है। बिहार राज्‍य पथ परिवहन निगम की गांधी मैदान बस स्‍टेाड से खुले वाली बसों को भी भविष्‍य में यहीं शिफट किया जाएगा। यहां से रोज तीन हजार बसें खुलेंगीं तथा डेढ़ लाख यात्रियों का आवागमन होगा। विभिन्न क्षेत्रों से आने वाली बसों के लिए अलग-अलग टर्मिनल होंगे।

 

यात्रियों की सुविधा के लिए किए गए खास प्रबंध

 

यहां पर्याय संख्या में टिकट काउंटर बनाये गए हैं। बुजुर्गों और बच्चों की सहूलियत के लिए एस्केलेटर की सुविधा दी गई है। छोटी कारों से आने वालों के लिए एलिवेटेड रोड बनाए गए हैं। शॉपिंग कॉम्‍प्‍लेक्‍स, मॉल, वेटिंग हॉल, रेस्‍ट रूम, सिनेमा घर, स्नानागार आदि भी बनाए गए हैं। ड्राइवर और बस स्टाफ के छहरने के लिए भी इंतजाम किए गए हैं।

 

 

कॉमर्शियल ब्लॉक भी, जानिए दुकान के नियम

 

बस अड्डे में कॉमर्शियल ब्लॉक भी बनाया गया है, जहां दुकानों का आवंटन बस अड्डे के संचालन व रखरखाव की समिति करेगी। सह अंतरराज्‍यीय बस टर्मिनल सोसाइटी (पटना) है, जिसके गठन को हाल ही में राज्‍य सरकार ने कैबिनेट की बैठक में मंजूरी दी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.