बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर भागलपुर जेल में रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से शुरू हुई कैदियों की कोरोना जांच

कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए शनिवार से जेलों में कोरोना जांच शुरू कर दी गई।शहीद जुब्बा सहनी केंद्रीय कारा और महिला मंडल कारा में बंद कैदियों से इसकी शुरुआत की गई है । जेल अस्पताल में तैनात स्वास्थ्य कर्मियों के दल ने रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से जांच शुरू की है । प्रथम चरण में जेल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती आधा दर्जन कैदियों की जांच की गई । ये वही कैदी हैं जिन्हें जेल प्रशासन ने सर्दी – जुकाम और बुखार की शिकायत पर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया है । जेल अधीक्षक संजय कुमार चौधरी ने बताया कि सिविल सर्जन ने 50 रैपिड एंटीजन टेस्ट किट और 20 पीपीई किट उपलब्ध कराया है । पहले आइसोलेशन वार्ड में भी कैदियों की जांच कराई जा रही है । जेल कर्मियों की भी कोरोना जांच कराई जा रही है । बता दें कि भागलपुर जेल में अबतक चार कैदियों की कोरोना से मौत हो चुकी है । दो कैदी कोरोना जांच के क्रम में संक्रमित पाए गए हैं । यहां की तीनों जेलों में बंद करीब चार हजार कैदियों को जेल अधिकारी रोज गर्म पानी पीने और काढ़ा के सेवन को जागरुक कर रहे हैं ।

Leave a Reply