पायलट को नहीं मनाएगी कांग्रेस, मीटिंग में नहीं आए तो होंगे पार्टी से बाहर!

राजस्थान में अशोक गहलोत की कांग्रेस सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बागी तेवर अख्तियार कर लिए हैं और उनके बीजेपी में जाने की अटकलें तेज हैं. इस बीच कांग्रेस ने अपने तेवर सख्त कर लिए हैं और सोमवार सुबह होने वाली बैठक के लिए विधायकों को व्हिप जारी किया है.

सोमवार सुबह विधायक दल की बैठक होने वाली है जिसके लिए कांग्रेस पार्टी ने व्हिप जारी किया है. इसमें कहा गया है कि अगर कोई भी कांग्रेस का विधायक बैठक में नहीं आता है तो उसकी सदस्यता जाएगी. कांग्रेस के प्रभारी महासचिव अविनाश पांडे ने कहा है कि 109 विधायकों का समर्थन पत्र मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पास पहुंच गया है और वे सोमवार सुबह मीटिंग में आएंगे. बाकी लोग अगर नहीं आते हैं तो उनकी सदस्यता चली जाएगी. इस पूरे मामले पर बोलते हुए रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि हम किसी व्यक्ति की बात नहीं कर रहे हैं, हमें नहीं लगता है कि कोई नहीं आएगा. हालांकि नेताओं का इशारा साफ तौर पर सचिन पायलट की तरफ माना जा रहा है.

इससे पहले जयपुर में मुख्यमंत्री आवास पर कांग्रेस की प्रेस वार्ता हुई. अविनाश पांडे, रणदीप सुरजेवाला और अजय माकन ने इसमें हिस्सा लिया. अविनाश पांडे ने कहा कि सोनिया गांधी के निर्देशों पर जयपुर आए हैं. 109 विधायक के समर्थन पत्र की चिट्ठी मुख्यमंत्री को दे चुके हैं. कुछ अन्य विधायक भी संपर्क में हैं. सुबह 10 बजे कांग्रेस विधयाक दल की बैठक है. बैठक को लेकर व्हिप जारी किया गया है. जो बैठक में नहीं होंगे मौजूद, उनके खिलाफ अनुशासनात्मक करवाई की जाएगी. व्हिप का उल्लंघन करने पर पार्टी की सदस्यता समाप्त हो सकती है.

Leave a Reply