पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ने वाले राजेश वर्मा की जीत के कई मायने

ElectionBhagalpurBiharElection Results 2024KhagariaPolitics

बिहार की खगड़िया सीट पर भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला. ऐसे में सबकी निगाहें खगड़िया संसदीय सीट पर आने वाले परिणाम पर टिकी हुई थीं. यहां का चुनाव कई मायनों में खास माना जा रहा था. इस सीट को लोजपा प्रत्याशी राजेश वर्मा ने अपने नाम किया. उन्हें यहां से 230322 वोट मिले. वहीं, मुकाबले में रहे सीपीआईएम के उम्मीदवार संजय कुमार को 146236 वोट मिले.

खगड़िया के बाजार समिति मैदान में मतगणना शुरू हो गई थी. ऐसे में एनडीए गठबंधन के कार्यक्रता और महागठबंधन के कार्यक्रताओं के बीच अपने अपने प्रत्याशी की जीत का दावा के बीच बाजार समिति मैदान के बीच सुबह से ही भीड़ जमा होने लगी थी. एनडीए के प्रत्याशी राजेश वर्मा को जहां नरेंद्र मोदी के द्वारा किए गए कार्य को लेकर वोटरों के बीच गए थे. वहीं, सीपीआईएम के उम्मीदवार संजय कुमार राजेश वर्मा को बाहरी प्रत्याशी बताते हुए वोटरों के बीच गए थे.

महिला वोटर निर्णायक की भूमिका में हो सकते है. खगड़िया लोकसभा क्षेत्र में महिला बोटर ने जमकर मतदान किया है. ऐसे में एनडीए गठबंधन के प्रत्याशी को पूरा विश्वास है कि महिलाओं को केन्द्र सरकार से मिलने वाली सहायता उनको ज्यादा मोदी के प्रति आकर्षित किया है. और इसलिए महिलाओं ने एनडीए गठबंधन के पक्ष में वोटिंग किया. वहीं, महागठबंधन के प्रत्याशी कुशवाहा जाति से आने के कारण कुशवाहा वोटरों ने महागठबंधन के पक्ष में वोट किया है, जो उनको निर्णायक भुमिका में ला रहा है. पहले से ही मुस्लिम और यादव बहुल बाला खगड़िया लोकसभा सीट रहा है ऐसे में महागठबंधन के साथ इन जाति के वोटरों ने वोट किया था.

लोजपा (आर) प्रत्याशी: राजेश वर्मा भागलपुर के बड़े सर्राफा व्यावसायी हैं. वह बड़े बिल्डर एवं डेवलपर कंपनी के मालिक हैं. वे इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुके हैं. 2017 में उन्होंने भागलपुर नगर निगम के जरिये राजनीतिक क्षेत्र में कदम रखा. पहली बार में ही डिप्टी मेयर बन गए. डिप्टी मेयर रहते हुए ही इन्होंने सक्रिय राजनीति में भी कदम बढ़ाया. लोजपा के टिकट से 2020 में भागलपुर से विधानसभा का चुनाव लड़ा. इस चुनाव में वह तीसरे नंबर पर रहे. उन्हें 12.8 प्रतिशत यानि 20523 मत मिले थे. इसके बाद वह लोजपा रामविलास के प्रमुख चिराग पासवान के साथ जुड़े रहे. पशुपति पारस से मतभेद हुआ तब भी वे उनके साथ थे. साथ ही लोजपा के भागलपुर से जिलाध्यक्ष भी रहे हैं.

Kumar Aditya

Anything which intefares with my social life is no. More than ten years experience in web news blogging.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected!

हमें विज्ञापन दिखाने की आज्ञा दें।