देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 900 के पार, केरल में कोरोना से एक की मौत

देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 900 के पार चली गई है. जबकि अब तक इस वायरस से 20 लोगों की जान गई है. मरीजों की संख्या लगातार तेजी से बढ़ रही है. उधर लॉकडाउन का आज चौथा दिन है, लेकिन देश के कई हिस्सों में मजदूरों का पलायन चिंता का सबब बन गया है. मजदूर पैदल ही अपने परिवार के साथ गृह राज्य लौट रहे हैं. इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गई है, जिसमें मांग की गई है कि कोर्ट प्रशासन को आदेश दे कि इन लोंगों को हर जगह शेल्टर होम में रखकर तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं.

नोएडा में लोगों की मदद के लिए युवा आ रहे हैं आगेलॉकडाउन की वजह से पूरे देश में सबकुछ बंद है. लोग अपने अपने घरों में हैं. कई लोगों को खाने-पीने की भारी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है. ऐसे में समाज के कई युवा अब लोगों की मदद के लिए सामने आ रहे हैं. नोएडा में गौरव और सार्थक लोगों के घरों तक खाना पहुंचा रहे हैं. वो खाना पहुंचाने का कोई चार्ज नहीं करे रहे हैं. यानी बिना किसी डिलीवरी चार्ज के.

लॉकडाउन के बीच भी साफ-सफाई में जुटे हैं कर्मचारीकोलाकाता में लॉकडाउन के बीच भी साफ-सफाई कर्मचारी अपनी ड्यूटी कर रहे हैं. एक कर्मचारी ने कहा कि वो खुश हैं कि ऐसे हालात में जब पूरा देश महामारी के खिलाफ लड़ रहा है, हमलोग जनता के लिए साफ-सफाई सुनिश्चित कर पा रहे हैं. जिससे कि वो अपने घरों में रह सकें. वहीं सिल्लीगुड़ी के मेयर अशोक भट्टाचार्य ने कहा कि अगले दो महीनों के लिए सभी कर्मचारियों को उनकी सैलिरी के अतिरिक्त 100 रुपये प्रति महीना टिफिन भत्ता दिया जाएगा. इसके अलावा उन्हें सोशल पेंशन के तहत मिलने वाला चावल प्रति महीना, 10 किलो के बजाए अब 15 किलो दिया जाएगा.

भारतीय रेलव ने तैयार किया आइसोलेशन कोचकोरोना वायरस मरीजों की संख्या जिस तेजी से बढ़ रही है उसको लेकर सभी सरकारें परेशान हैं. वो हालात का मुकाबला करने की तैयारी में जुटे हैं. वहीं भारतीय रेलवे ने ट्रेन की बोगियों के अंदर ही आइसोलेशन वार्ड बनाने की व्यवस्था की है. बीच का बर्थ हटा दिया गया है साथ ही ऊपर चढ़ने के लिए दी गई सीढ़ियां भी हटा ली गईं है. बाथरूम में भी बदलाव किए गए हैं, जिससे कि मरीजों को वहां पर आइसोलेट रखा जा सके.

केरल में धार्मिक परिसरों में घुसने पर पाबंदीकेरल में क्रिश्चियन समुदाय समेत सभी धार्मिक नेताओं ने लोगों से अपने घरो में रहने की अपील की है. उन्होंने एक ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस कर लोगों से कहा है कि कोरोना वायरस पर लगाम लगाने के लिए जरूरी है कि वो अपने घरों में रहें. इसलिए फिलहाल किसी भी धार्मिक केंद्र में लोगों के घुसने की इजाजत नहीं होगी.

योगी सरकार 1000 बसों का करेगी इंतजामअपने गृह राज्यों को वापस लौट रहे मजदूरों की परेशानी को देखते हुए योगी सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. पलायन कर दूसरे राज्यों में रह रहे सभी मजदूरों को अपने घरों तक पहुंचाने के लिए 1000 बसें चलाई जा रही हैं. सभी बस ड्राइवर, कंडक्टर को शुक्रवार रात इस बात की जानकारी देते हुए जरूरी इंतजाम करने का आदेश जारी किया गया है. जाहिर है काम नहीं होने की वजह से इनके पास रहने और खाने का संकट पैदा हो गया था. इस वजह से वो अपने-अपने गांवो के लिए पैदल ही रवाना हो रहे थे. हालांकि इस तरह से कोरोना के फैलने का खतरा भी बढ़ गया है.

 

मंडी में महंगी मिल रही है सब्जियांसरकार दुकानदारों से अपील कर रही है कि वो लोगों को ज्यादा कीमतों पर सामान ना बेचें. इसके साथ ही उन्होंने निर्देश भी जारी किया है कि अगर कोई विक्रेता ऐसा करता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो सकती है. वहीं कई सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि उन्हें अगर मंडी से ही महंगी सब्जी मिल रही है तो फिर वह सस्ता कैसे बेचेंगे. पंजाब में एक सब्जी विक्रेता ने बताया कि आलू 10 रुपये किलो था जो कि अब मंडी में 20 रुपये किलो मिल रहा है. मटर भी अब 40 रुपये मिल रहा है तो वो सस्ते दामों पर कैसे बेचेंगे. अपनी रोजी रोटी के लिए थोड़ा मुनाफा तो वो भी कमाएंगे ही.

 

पिछले 24 घंटों में 149 नए केसभारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या काफी तेजी से फैल रही है. पिछले 24 घंटों में 149 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इस तरह कोरोना पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या 873 हो गयी है. इनमें 20 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 80 के करीब लोगों को ठीक भी किया गया है.

गुजरात में कोरोना संक्रमितों की संख्या हुई 53गुजरात में छह नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं. यानी कुल मिलाकर राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 53 हो गई है. इस संबध में स्वास्थ्य विभाग की प्रिंसिपल सेक्रेटरी जयंती रवि ने कहा, ‘छह और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इस तरह अब राज्य में कुल कोरोना संक्रमित 53 हो गए हैं.’

 

राजस्थान में दो और मिले कोरोना पॉजिटिवराजस्थान में दो और कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इस तरह राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 52 हो गई है. इस बारे में जानकारी साझा करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, ‘राज्य में आज दो और कोरोना पॉजिटिव केस पाए गए हैं. इनमें से एक शख्स (जिसकी उम्र23 साल है) अजमेर का रहने वाले है, जो पंजाब से वापस आया था. जबकि दूसरी एक 21 वर्षीय महिला है जो भीलवाड़ा की रहने वाली है. अब राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 52 हो गई है.

 

दिल्ली गाजीपुर इलाके में भारी भीड़लॉकडाउन के बीच शनिवार को दिल्ली गाजीपुर इलाके में भारी भीड़ दिखाई दे रही है. दरअसल दिल्ली-उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर भारी संख्या में लोग जमा हो गए हैं. ये सभी अपने-अपने घरों को लौट रहे थे लेकिन पुलिसवालों ने उन्हें बाहर निकलने से रोक दिया है.

 

भोपाल में पत्रकार के खिलाफ केस दर्जभोपाल में शासकीय आदेशों के उल्लंघन करने के जुर्म में एक पत्रकार के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया गया है. उनपर अपराध संख्या 67/20 धारा 188, 269, 270 भारतीय दंड विधान का अपराध पंजीबद्ध किया गया है. संबंधित पत्रकार पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी गए थे. बाद में उन्हें कोरोना पॉजिटिव पाया गया है.

चंडीगढ़ में एक और कोरोना पॉजिटिवचंडीगढ़ में एक और शख्स को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. इस तरह यहां पर संक्रमितों की संख्या बढ़कर आठ हो गई है. वहीं पूरे देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 861हो गई है. जबकि COVID-19 की वजह से अब तक 20 लोगों की जानें भी जा चुकी हैं.

महाराष्ट्र में छह और कोरोना वायरस पॉजिटिव केसमहाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक राज्य में कोरोना पॉजिटिव के छह नए मामले सामने आए हैं. इसमें 5 मामले मुंबई में और एक नागपुर में सामने आए हैं. इस तरह कुल कोरोना पॉजिटिवों की संख्या बढ़कर 159 हो गई है.

डोर्नियर विमान से पुणे लाया गया 60 टेस्टिंग सैंपलभारतीय नौसेना, शुक्रवार रात डोर्नियर विमान से कोरोना वायरस टेस्टिंग के लिए 60 सैंपल लेकर पुणे पहुंची है. इसे INS हंसा एयर स्टेशन (गोवा) से लाया गया है. गोवा स्वास्थ्य विभाग खुद इसे लेकर पुणे पहुंची थी.

दिल्ली में लोग मेंटेन कर रहे हैं सोशल डिस्टेंसिंगदिल्ली में लॉकडाउन के बीच सब्जी-दूध खरीदने के लिए सुबह-सुबह लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं. हालांकि इस दौरान लोग सोशल डिस्टेंसिंग को भी फॉलो कर रहे हैं. यहां तक कि दुकानदार ने भी पर्टी चिपकाकर लोगों से उतिद दूरी बनाए रखने की अपील की है. साथ ही लोगों से डिजिटल पेमेंट करने की अपील कर रहे हैं.

दिल्ली में जरूरतमंदों की मदद के लिए स्थानीय लोग आए बाहरलॉकडाउन का आज चौथा दिन है. ऐसे में शहर की सभी दुकानें बंद हैं. इस वजह से स्ट्रीट पर रहने वाले लोगों के सामने खाने-पीने की भारी दिक्कत सामने आ रही है. दिल्ली में रह रहे कई स्थानीय लोग, अब इस मुश्किल घड़ी में उनकी मदद के लिए सामने आ रहे हैं बंगला साहिब गुरुद्वारा के बाहर कई लोगों ने स्टॉल लगाकर जरूरतमंद लोगों को खाना उपलब्ध कराया है.

केरल में म्यूनिसपैलिटी अधिकारी कर रहे मददकेरल के मालाप्पुरम जिले के कोट्टाक्काल शहर में दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए अब म्यूनिसपैलिटी अधिकारी सामने आए हैं. वे मजदूरों के लिए खाने-पीने के सामान उपलब्ध करा रहे हैं.

नोएडा में आज से होम डिलिवरीनोएडा में आवश्यक चीजों की डोर टु डोर डिलिवरी के लिए 1500 डिलिवरी बॉय होंगे. नोएडा अथॉरिटी ने 260 फार्मेसी, 450 किराने के सामान और ई-कॉमर्स के लिए डिलिवरी बॉय तय कर दिए हैं. आज से नोएडा में आवश्यक चीजों की होम डिलिवरी शुरू हो जाएगी.

पीएम मोदी ने सीएम ममता बनर्जी से की बातप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार शाम को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से फोन पर बातचीत की. उन्होंने राज्य सरकार द्वारा COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए उठाए गए कदम की सराहना की. इस दौरान मोदी ने कोरोना वायरस प्रकोप की पृष्ठभूमि में राज्य की मौजूदा स्थिति का भी जायजा लिया. दोनों नेताओं के बीच करीब 10 मिनट बातचीत हुई. सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी बनर्जी को फोन किया और राज्य के हालात का जायजा लिया.

SC से गुहार- प्रवासी मजदूरों की मदद करे सरकारदेशभर में बडे शहरों से पलायन कर रहे प्रवासी मजदूरों का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट. सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर दिशा- निर्देश जारी करने की मांग की गई है.वकील अलख आलोक श्रीवास्तव ने याचिका में कहा है कि कोरोना के चलते लॉकडाउन होने से हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर अपने परिवार के साथ सैंकडों किलोमीटर पैदल चल रहे हैं. इनमें बुजुर्ग, बच्चे, महिलाएं और दिव्यांग भी शामिल हैं. उनके पास ना तो रहने की सुविधा है और ना ही खाने पीने व ट्रांसपोर्ट की. इसलिए सुप्रीम कोर्ट देश भर में प्रशासन को आदेश दे कि इन लोंगों को हर जगह शेल्टर होम में रखकर सुविधाएं दी जाएं.

 

लॉकडाउन का चौथा दिन आजपीएम मोदी ने 24 मार्च को अगले 21 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की थी. अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 800 के पार पहुंच गई है. जबकि 20 लोगों की जान जा चुकी है. लॉकडाउन की समस्या से सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं दिहाड़ी मजदूर. हर रोज कमाने और हर रोज खाने वाले इन मजदूरों के सामने सबसे बड़ी समस्या रोजगार की है. उनके पास कोई काम नहीं है. ऐसे में वो वापस अपने गृह राज्य को लौट रहे हैं.

Leave a Reply