झारखंड सरकार रिम्स निदेशक के बंगले पर लालू प्रसाद का नाम दर्ज कर दें:जदयू

 

वरिष्ठ जदयू नेता व सरकार के सूचना जनसम्पर्क मंत्री नीरज कुमार ने झारखंड सरकार को निशाने पर लिया है। कहा कि बिहार और झारखंड के चारा घोटाला के सजायाफ्ता कैदी लालू प्रसाद को अघोषित राजकीय अतिथि मानकर निदेशक रिम्स, रांची का बंगला दिया गया है। सवाल स्वाभाविक है। कोरोना संक्रमण की स्थिति में झारखंड सरकार ने यह फैसला लिया, लेकिन रिम्स रांची के कैदी वार्ड में 13 कैदी इलाजरत हैं तो अन्य कैदियों को यह विशेष सुविधा क्यों नहीं दी गयी?

नीरज ने मीडिया को तस्वीर जारी कर दावा किया है कि निदेशक रिम्स के बंगला के नामपट्टिका को मिटा दिया गया। तो क्यों नहीं झारखंड सरकार निदेशक के बंगला के नामपट्टिका पर कैदी नं०- 3351, लालू प्रसाद का नाम दर्ज करवाती है, जिससे आम लोग यह देख सकें कि भ्रष्टाचार के पुरोधा यहां वास करते हैं।

जदयू नेता ने आरोप लगाया कि लालू प्रसाद बंगले में एकांत में रहकर चिंतन मनन करेंगे कि राजनीति में सम्पत्ति सृजन एवं परिवारिक सत्ता को स्थापित करने के लिए क्या-क्या किया? नीरज ने झारखंड सरकार को सलाह है कि अपने विधायकों को सचेत कर दें। इनके परिवार के मायाजाल में पड़ कर कहीं सम्पत्ति दान न कर दें।

 

Leave a Reply