गोपालगंज-बिट्टू हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा

 

बिट्टू हत्याकांड मामले में गोपालगंज पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए 36 घंटे के अंदर अपराधियों को गिरफ्तार कर बिट्टू हत्या कांड का खुलासा कर दिया, इस मामले में पुलिस अधीक्षक मनोज तिवारी के निर्देश पर सदर एसडीपीओ के नेतृत्व में एक टीम बनाइ गयी थी।

जिसमें पुलिस उपाधीक्षक दीपक कुमार, नगर थाना अध्यक्ष प्रशांत कुमार राव,पुलिस उप निरीक्षक मुन्नीलाल सिंह,को इस टीम में शामिल किया गया था,पुलिस के द्वारा 36 घंटे के अंदर में चलाई गयी इस कार्रवाई में, इस कांड में संलिप्त तीन हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
26 मई को अपराधियों ने बनाई थी हत्या और लूट की योजना

लूट और हत्या में सामिल तीनों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने पूछताछ के बाद बड़े खुलासे किये हैं पकड़े गए तीनों आरोपियों ने 26 मई के दिन एक साथ बैठकर लूट की योजना बनाई थी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान गोपालगंज पुलिस अधीक्षक ने यह भी खुलासे किए हैं कि बिट्टू हत्याकांड को अंजाम देने के लिए अपराधियों ने थावे दुर्गा मंदिर के पास से 700 में चाकू खरीदी थी जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है,
28 मई के दिन घटना को दिया गया अंजाम,

बिट्टू हत्याकांड मामले में पुलिस ने अपराधियों की गिरफ्तारी करते हुए इस बात का भी खुलासा किया है कि अपराधियों के द्वारा मोबाइल फोन कर देर रात मुकेरी टोला पुल के पास बिट्टू को बुलाया गया, बिट्टू के पास रखें बीस हाजर रूपए को लूटने का प्रयास किया गया बिट्टू ने जब इसका विरोध किया तो इन शातिर बदमाशों ने उसकी चाकू गोदकर निर्मम हत्या कर दी, और वारदात को अंजाम देकर घटना स्थल से फरार हो गए, मामले की तहकीकात में जुटी पुलिस की गठित की गई टीम ने मोबाइल लोकेशन को खंगालते हुए
बिट्टू हत्याकांड में संलिप्त स्थानीय नगर थाने के मुकेरी टोला गांव निवासी रामविनोद प्रसाद का पुत्र रोहित कुमार,विजय प्रसाद का पुत्र बिट्टू कुमार,और सुनील कुमार का पुत्र राजू कुमार, को गिरफ्तार कर लिया गया गिरफ्तार किए गए हत्यारों ने हत्याकांड में अपनी संलिप्तता जाहिर करते हुए पुलिस को बताया है कि बिट्टू की हत्या चाकू गोदकर की गई,पकड़े गए आरोपियों के पास से पुलिस ने बीस हजार नगद सहित वारदात में प्रयोग किए गए चाकू को भी बरामद कर लिया है,

Leave a Reply