क्रिकेट से राजनीति में आये गौतम गंभीर ने कहा कि हमारी पार्टी ‘फ्री’ के खिलाफ नहीं, वह दिल्ली को सक्षम बनाना चाहती है, लाचार नहीं

पटना : क्रिकेट से राजनीति में आये गौतम गंभीर ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा के लोगों को विश्वास दिलाने में सफल नहीं रहने की बात स्वीकारते हुए गुरुवार को कहा कि हमारी पार्टी ‘फ्री’ के खिलाफ नहीं, वह दिल्ली को सक्षम बनाना चाहती है, लाचार नहीं. गंभीर ने पटना में फन गेज की क्रिकेट स्कॉलरशिप की शुरुआत करते हुए गुरुवार को संवाददाताओं से बातचीत में यह बात कही.

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा के खराब प्रदर्शन के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘मेरे संसदीय क्षेत्र पूर्वी दिल्ली लोकसभा के अंतर्गत आने वाले विधानसभा क्षेत्रों में अपेक्षाकृत पार्टी का प्रदर्शन बेहतर रहने के बावजूद मेरा यह मानना है कि दिल्ली में भाजपा का बेहतर परिणाम नहीं आने की जिम्मेवारी हमसभी को मिलकर लेनी चाहिए.’ उन्होंने कहा कि शायद हम लोगों को समझा नहीं पाए और लोग हमारे एजेंडा और दृष्टिकोण के साथ नहीं जुड़ पाए.

भाजपा सांसद ने अरविंद केजरीवाल सरकार की मुफ्त बिजली सहित अन्य ऐसी योजनाओं की ओर इशारा करते हुए कहा कि हम दिल्ली को सक्षम बनाना चाहते हैं, लाचार नहीं. लाचारी मनुष्य के जीवन का सबसे खराब पहलू है. गंभीर ने कहा कि भाजपा दिल्ली सहित देश के अन्य भागों की जनता को सक्षम बनाना चाहती है, लाचार नहीं.

यह पूछे जाने पर कि क्या अरविंद केजरीवाल सरकार की ऐसी लुभावनी योजनाएं उसके पक्ष में दिल्ली विधानसभा चुनाव में कारगर रहीं, गंभीर ने कहा भाजपा के चुनावी घोषणापत्र में कहा गया था कि जो चीजें मुफ्त चल रही हैं वे आगे भी वैसे ही जारी रहेंगी. उन्होंने कहा कि हमने यह नहीं कहा था कि हम आम आदमी पार्टी से ज्यादा निशुल्क चीजें देंगे. हमने यह कहा था कि अगर आप दिल्ली की बच्चियों को आगे बढ़ाना चाहते हैं तो इसमें कोई गलत नहीं. हमने मुफ्त साइकिल इसलिए बोली थी क्योंकि बच्चियां आगे बढ़ सकें.

उन्होंने कहा कि मुझे आशा है कि जो चीजें फ्री चलती रही हैं वह अगले पांच साल भी जारी रहें. दिल्ली की जनता के साथ खिलवाड़ नहीं किया जाए. दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा के बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाने पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को हटाए जाने की मांग की खबरों पर गंभीर ने कहा कि यह आलाकमान तय करेगा. हालांकि, उन्होंने कहा कि इसके लिए अकेले वह जिम्मेवार नहीं हैं. किसी एक की नहीं बल्कि पूरी भाजपा की हार है और इसके लिए हम सभी को जिम्मेवारी लेनी होगी.

Leave a Reply